मुख्य मेनू खोलें

अँखियों से गोली मारे

2002 की हर्मेश मल्होत्रा की फ़िल्म

अँखियों से गोली मारे 2002 में बनी हिन्दी भाषा की कॉमेडी फ़िल्म है। हर्मेश मल्होत्रा द्वारा निर्देशित, इसमें गोविन्दा, रवीना टंडन, कादर खान, शक्ति कपूर, असरानी और जॉनी लीवर प्रमुख भूमिकाओं में हैं। यह फिल्म टिकट खिड़की पर असफल रही थी। इस फिल्म का नाम निर्देशक की फिल्म दूल्हे राजा (1998) के सुपरहिट गाने से आया है।

अँखियों से गोली मारे
अखियों से गोली मारे (2002 फ़िल्म).jpg
अँखियों से गोली मारे का पोस्टर
निर्देशक हर्मेश मल्होत्रा
निर्माता हर्मेश मल्होत्रा
लेखक अनवर ख़ान (संवाद)
पटकथा राजीव कौल
प्रफुल्ल पारेख
अभिनेता गोविन्दा,
रवीना टंडन,
कादर ख़ान,
शक्ति कपूर,
जॉनी लीवर,
असरानी
प्रदर्शन तिथि(याँ) 2 अगस्त, 2002
देश भारत
भाषा हिन्दी

संक्षेपसंपादित करें

अखेन्द्र उर्फ टोपीचंद भांगडे (कादर खान) पुरावस्तु की दुकान के पीछे अवैध गतिविधियों चलाता है। वह कुख्यात चोर बाजार क्षेत्र के पास अपनी पत्नी सुलेखा और इकलौती बेटी किरण (रवीना टंडन) के साथ रहता है। वह किरण का विवाह सब से बड़े बदमाश से कराना चाहता है और गैंगस्टर शक्ति दादा (शक्ति कपूर) को अपना भावी दामाद होने के लिए चुनता है। लेकिन किरण पहले से ही राज ओबेरॉय (गोविन्दा) से प्यार करती है, जो एक अमीर परिवार से संबंधित है और उसका किसी भी गैंगस्टर के साथ कोई संबंध नहीं है। किरण ने अपने पिता की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए राज को विश्वास दिलाया कि उसे पहले गैंगस्टर बनना होगा। राज अनिच्छा से सहमत होता है, और सुब्रमण्यम (जॉनी लीवर) नामक गैंगस्टर-ट्रेनर से मिलता है। कई दुर्घटनाओं के बाद, राज अंततः अपना लक्ष्य पूरा करता है, और किरण के लिए उपयुक्त दूल्हे बनने के योग्य होता है। फिर टोपीचंद के पिता, एक अमीर आदमी ठाकुर राणा के आगमन के साथ चीजें अचानक बदल जाती हैं, जो कि किसी भी गैंगस्टर के साथ किरण के विवाह का जोरदार विरोध करते हैं। एक बदकिस्मत राज को अब अपनी गैंगस्टर छवि को साफ करना होगा।

मुख्य कलाकारसंपादित करें

संगीतसंपादित करें

क्र॰शीर्षकगीतकारसंगीतकारगायकअवधि
1."ओ छोरी गोरी गोरी"समीरआनंद-मिलिंदसोनू निगम, जसपिंदर नरूला5:35
2."अँख जो तुझ से लड़ गई"देव कोहलीआनन्द राज आनन्दसोनू निगम, जसपिंदर नरूला4:51
3."गोर तन से सरकता जाए"समीरआनंद-मिलिंदसोनू निगम, अलका याज्ञनिक, संजीविनी4:23
4."ठुमका लगा के नाचो"नितिन रैकवारदिलीप सेन-समीर सेनविनोद राठोड़, सोनू निगम, संजीविनी6:16
5."देहरादून का चूना लगाया"सलीम बिजनौरीडब्बू मलिकविनोद राठोड, सुनिधी चौहान 
6."मैंने तुझे देखा"समीरआनंद-मिलिंदसोनू निगम, अलका याज्ञनिक4:20
7."रब्बा ओ रब्बा"देव कोहलीआनंद-मिलिंदउदित नारायण, अलका याज्ञनिक5:10
8."लड़का मुड़ मुडके मारे"समीरआनंद-मिलिंदविनोद राठोड, अलका याज्ञनिक4:24

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें