अन्तरराष्ट्रीय ओलम्पिक समिति

खेल महासंघ

अन्तरराष्ट्रीय ओलम्पिक समिति (आईओसी) (अंग्रेज़ी: International Olympic Committee (IOC); फ़्रान्सीसी: फ़्रान्सीसी‎ (CIO)) एक अन्तर्राष्ट्रीय समिति है जिसका मुख्यालय स्विट्जरलैण्ड के लॉज़ेन में स्थित है। इसकी स्थापना पियरे डे कोबेर्टिन ने 23 जून 1894 को कि थी तथा यूनानी व्यापारी देमित्रिस विकेलस इसके प्रथम अध्यक्ष बने थे।[1] वर्तमान समय में विश्व की कुल 205 राष्ट्रीय ओलम्पिक समितिया (एनओसी) इसकी सदस्य हैं।

अन्तर्राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति
अंग्रेज़ी: International Olympic Committee
फ़्रान्सीसी: फ़्रान्सीसी
Olympic rings without rims.svg
सिद्धांत तेज, उच्च, मजबूत (फ़्रान्सीसी: फ़्रान्सीसी‎)
स्थापना 23 जून 1894
प्रकार खेल महासंघ
मुख्यालय लुसाने, स्विट्ज़रलैण्ड स्विट्ज़रलैंड
सदस्यता
205 राष्ट्रीय ओलम्पिक समितिया
आधिकारिक भाषा
फ़्रान्सीसी और अंग्रेज़ी
मानद अध्यक्ष
जैक्स रोगे बेल्जियम
अध्यक्ष
थॉमस बाच जर्मनी
उपाध्यक्ष
यू जैकिंग चीनी जनवादी गणराज्य
जुआन एंटोनियो समरंच सैलिसिस स्पेन
उगुर एर्डनर तुर्की
अनीता डीफ्रंटज़ संयुक्त राज्य
जालस्थल www.Olympic.org

इतिहाससंपादित करें

आईओसी की स्थापना पियरे डे कोबेर्टिन द्वारा 23 जून 1894 को की गई थी। 23 जून को प्रति वर्ष ओलिंपिक दिवस के रूप में मनाया जाता है। जून 2017 तक, इसकी सदस्यता में 95 सक्रिय सदस्य, 41 मानद सदस्य, एक मानद अध्यक्ष (जैक्स रोगे)और एक सम्मान सदस्य (हेनरी किसिंजर) शामिल हैं। आईओसी दुनिया भर में आधुनिक ओलंपिक आंदोलन का सर्वोच्च शासी निकाय है। आईओसी हर चार साल मे ग्रीष्मकालीन ओलंपिक खेल, शीतकालीन ओलम्पिक खेल और युवा ओलम्पिक खेल का आयोजन करता है। आईओसी द्वारा आयोजित पहला ग्रीष्मकालीन ओलंपिक 1896 में यूनान के एथेंसपहला शीतकालीन ओलंपिक 1924 में फ्रांस के चेमोनिक्स में आयोजित किया था। 1992 तक ग्रीष्मकालीन और शीतकालीन ओलंपिक दोनों एक ही वर्ष आयोजित किए जाते थे।

लक्ष्य और भूमिकासंपादित करें

अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति का मुख्य कार्य ओलंपिक आंदोलन को बढ़ावा देना और ओलंपिक आंदोलन का नेतृत्व करना है। [2]

  • खेल और खेल प्रतियोगिताओं के संगठन, विकास और समन्वय को प्रोत्साहित करना और समर्थन करना;
  • ओलंपिक खेलों के नियमित आयोजन को सुनिश्चित करना;
  • सक्षम सार्वजनिक या निजी संगठनों और अधिकारियों के साथ सहयोग करने का प्रयास करना ताकि खेल द्वारा मानवता की सेवा और शांति को बढ़ावा मिले;
  • ओलंपिक आंदोलन को प्रभावित करने वाले किसी भी प्रकार के भेदभाव के खिलाफ कार्य करना;
  • पुरुषों और महिलाओं की समानता के सिद्धांत को लागू करने के दृष्टिकोण के साथ सभी स्तरों पर और सभी संरचनाओं में खेल में महिलाओं के प्रचार को प्रोत्साहित करना और समर्थन करना।

कार्यकारी बोर्डसंपादित करें

पद नाम देश
मानद अध्यक जैक्स रोगे   बेल्जियम
अध्यक्ष थॉमस बाच   जर्मनी
उपाध्यक्ष यू जैकिंग   चीनी जनवादी गणराज्य
जुआन एंटोनियो समरंच सैलिसिस   स्पेन
उगुर एर्डनर   तुर्की
अनीता डीफ्रंटज   संयुक्त राज्य
कार्यकारी सदस्य गुनीला लिंडबर्ग   स्वीडन
वू चिंग-कुओ   चीनी ताइपे
जियान-फ्रैंको कास्पर   स्विट्ज़रलैंड
एंजेला रग्गेरियो   संयुक्त राज्य
सर्गेई बुब्का   युक्रेन
नग सेर मियांग   सिंगापुर
विली कल्त्चिमिट लुज़ान   ग्वाटेमाला
रॉबिन ई. मिशेल   फ़िजी
निकोल होएवर्टज   अरूबा
डेनिस ओस्वाल्ड   स्विट्ज़रलैंड
महानिदेशक क्रिस्टोफ डी केपर   बेल्जियम

ये वर्तमान में है

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "इस दिन मनाया गया था पहला 'ओलंपिक डे', भारत का ऐसा रहा है ओलंपिक में प्रदर्शन". Dainik Jagran. अभिगमन तिथि 2019-12-04.
  2. "Chapter 2: Mission and Role of the IOC" (PDF). Olympic Charter. IOC. 8 July 2011. पपृ॰ 14–15. अभिगमन तिथि 29 July 2012.