मुख्य मेनू खोलें

अघरीया:प्राचीन काल में आगरा को छोड़कर अन्य राज्यों में प्रस्थान करने के कारण इन्हें अघरीया कहा जाता है। वर्तमान में इनके वंशज चन्द्रवंशीय राजपूत लिखते हैं। लगभग 50 साल पहले इन्हें ग्राम गौटीया कहा जाता था, आजकल भी अंचल क्षेत्रों में इन्हें गौटीया कहा जाता है।