बृहदारण्यक उपनिषद के अनुसार मगध का एक अत्यंत प्राचीन राजा जिसे अजातशत्रु काश्य अथवा अजातरिपु भी कहते हैं। इसने गार्ग्य बालाकि ऋषि को वाद-विवाद में परास्त कर ज्ञानोपदेश दिया था।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें