अधिप्रमाणन

किसी घटना या वस्तु की सच को पुष्ट करने का कार्य

अधिप्रमाणन (Authentication) किसी व्यक्ति या संस्था द्वारा प्रस्तुत किसी कथन या तथ्य को प्रमाणित करने की प्रक्रिया को कहते हैं। यह तथ्य किसी व्यक्ति या अन्य इकाई की पहचान से सम्बन्धित भी हो सकता है, यानि जो व्यक्ति अमुक होने का दावा कर रहा है उसके लिए यह साबित करना की वह वास्तव में वही व्यक्ति है। यह अधिप्रमाणन पहचान पत्रों से या इंटरनेट पर डिजिटल सर्टिफ़िकेट द्वारा करा जा सकता है।[1]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Turner, Dawn M. "Digital Authentication: The Basics". Cryptomathic. मूल से 14 अगस्त 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 9 August 2016.