मुख्य मेनू खोलें

अनीता गोयल (हिन्दी: अनीता गोयल) संयुक्त राज्य अमेरिका में एक भौतिक विज्ञानी और चिकित्सक हैं। उन्हें नैनो बायोफिज़िक्स में अपने अग्रणी अनुसंधान के लिए विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त है, विशेष रूप से डीऐनए के पढने और लिखने के पीछे की आणविक यांत्रिकी अध्ययन के लिए।

अनीता गोयल
जन्म वोरसेसटर, मैसाचुसेट्स, संयुक्त राज अमेरिका
आवास संयुक्त राज अमेरिका
राष्ट्रीयता अमरीकी
क्षेत्र भौतिकी
भौतिक विज्ञानी
संस्थान हार्वर्ड विश्वविद्यालय
शिक्षा हार्वर्ड विश्वविद्यालय
MIT
Stanford University
डॉक्टरी सलाहकार डूडली राबर्ट हर्षबैक
प्रसिद्धि Molecular motors
Nanobiophysics
Nanotechnology

शिक्षासंपादित करें

गोयल ने हार्वर्ड विश्वविद्यालय से भौतिकी में पीएचडी की जहां उनका निर्देशन नोबेल पुरस्कार विजेता डुडले आर हर्षबैक ने किया। उनके शोध का विषय था सिंगल मौलीक्यूल डाईनैमिक्स ऑफ मोटर ऐनज़ाइम्स अलोंग डीऐनए। उन्होंने सम्मान और गौरव से भौतिकी में बी एसस्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से की जहां उसके गुरु थे नोबेल पुरस्कार विजेता स्टीवन चू. उन्होंने एमडी हार्वर्ड–एमआईटी संयुक्त विभाजन- स्वास्थ्य विज्ञान और प्रौद्योगिकी (HST) से की।[1][2][3]

नोटसंपादित करें

  1. "Archived copy". मूल से 2014-09-04 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2014-09-03.
  2. "2005 Young Innovators Under 35". Technology Review. 2005. अभिगमन तिथि August 15, 2011.
  3. Dr. Anita Goel - Studying DNA Using Physics[मृत कड़ियाँ]

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें