मुख्य मेनू खोलें

अन्ना राजम मल्होत्रा (जन्म: 1927,17 सितंबर, 2018) भारतीय प्रशासनिक सेवा में शामिल होने वाली पहली भारतीय महिला थी। वे 1951 बैच की आई॰ ए॰ एस॰ अधिकारी रहीं। ये महाराष्ट्र से थीं।

अन्ना का जन्म एर्नाकुलम में हुआ। पहले कालीकट और बाद में मद्रास में शिक्षा ग्रहण करने के पश्चात उन्होने 1951 में भारतीय सिविल सेवा की परीक्षा उत्तीर्ण की और भारतीय प्रशासनिक सेवा में शामिल होने वाली पहली भारतीय महिला बनीं। 1951 में संघ लोक सेवा आयोग द्वारा संचालित आर एन बनर्जी और चार आईसीएस अधिकारियों के शामिल साक्षात्कार बोर्ड में उन्हें काफी हतोत्साहित किया गया और उन्हें विदेश सेवा और केन्द्रीय सेवाओं को चुनने हेतु कहा गया, किन्तु उन्होने बिना हतोत्साहित हुये मद्रास काडर चुना और पहले प्रयास में ही उसी वर्ष उनका चयन हुआ। उनका प्रारंभिक नाम अन्ना जॉर्ज है। उन्हें १९८९ में भारत सरकार द्वारा प्रशासकीय सेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य हेतु पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।[1] 17 सितम्बर 2018 को उनका निधन हो गया।[2]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. [1] "The Hindu", March 11, 2012,Title:Grit meets grace
  2. "देश की पहली महिला IAS अधिकारी अन्ना राजम मल्होत्रा का निधन, मुंबई में होगा अंतिम संस्कार". पत्रिका समाचार. १८ सितम्बर २०१८. अभिगमन तिथि २० सितम्बर २०१८.