अमीलिया मैरी एरहार्ट (अंग्रेज़ी: Amelia Mary Earhart) (जुलाई 24, 1897 – लापता 1937) प्रसिद्ध अमेरिकी विमानचालक व लेखिका थीं। वह पहली महिला थीं जिन्हें सयुंक्त राज्य सशस्त्र सेना के डिस्टिंग्विश्ड फ्लाइंग क्रॉस से सम्मानित किया गया था, यह पदक अमीलिया को अटलांटिक महासागर अकेले पार करने के लिए दिया गया था। इन्होंने अन्य कई रिकॉर्ड भी बनाएँ थे, अपने उड़ान अनुभवों का वर्णन करने वाली सर्वश्रेष्ठ बिक्री वाली किताबें लिखीं और महिला पायलटों के संगठन नाइंटी-नाइन की स्थापना में अहम भूमिका निभाई। 1935 में अमीलिया ने इंडियाना राज्य के पर्ड्यू विश्वविद्यालय के उड्डयन विभाग में अस्थायी शिक्षक बन कर महिला विद्यार्थियों को कैरियर के प्रति आधिवक्ता देने व विमानन के अपने प्रेम के द्वारा प्रेरणा देने का कार्य किया। वे नेशनल वुमेंस पार्टी की सदस्य थीं।

अमीलिया एरहार्ट
Earhart.jpg
जन्म 24 जुलाई 1897[1]
एटचिसन
मृत्यु 2 जुलाई 1937
प्रशान्त महासागर
नागरिकता संयुक्त राज्य अमेरिका[2]
शिक्षा कोलंबिया विश्वविद्यालय
व्यवसाय संस्मरण लेखक, लेखक, पत्रकार
नियोक्ता पर्ड्यू विश्वविद्यालय
हस्ताक्षर
Amelia Earhart (signature).png
वेबसाइट
https://www.ameliaearhart.com/

1937 में अपने पृथवी के परिनौसंचालन उड़ान के प्रयास के दौरान अमीलिया मध्य-प्रशान्त महासागर के ऊपर हॉवलैंड द्वीप के समीप विमान समेत गायब हो गईं। इनके बारे में अबतक कोई ख़बर नहीं है। इनका जीवन, कैरियर और इनका ग़ायब हो जाना अबतक आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।[3]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. http://data.bnf.fr/ark:/12148/cb158042582; प्राप्त करने की तिथि: 10 अक्टूबर 2015.
  2. https://libris.kb.se/katalogisering/64jmq1bq06w30d9; स्वीडन राष्ट्रीय पुस्तकालय; प्राप्त करने की तिथि: 24 अगस्त 2018; प्रकाशन की तिथि: 21 सितंबर 2006.
  3. सलीम रिज़वी (30 अक्टूबर 2009). "मीरा नायर की नई फ़िल्म". न्यूयॉर्क: बीबीसी हिन्दी. अभिगमन तिथि 23 जुलाई 2012.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें