अर्नेस्टो सिसैरा (Ernesto Cesàro; १२ मार्च १८५९ – १२ सितम्बर १९०६) इतालवी गणितज्ञ थे जिन्होंने अवकल ज्यामिति के क्षेत्र में कार्य किया। यह उनका सबसे महत्त्वपूर्ण योगदान था जिसका वर्णन उन्होंने ज्यामिति के बारिकियों पर १८९० में लिखी अपनी पुस्तक में किया था। इस कार्य में वक्रों का वर्णन भी समाहित जिन्हें आज सिसैरा के नाम से नामकरण किया जाता है।[1]

अर्नेस्टो सिसैरा

जन्म 12 मार्च 1859
नापोलि, इटली
मृत्यु सितम्बर 12, 1906(1906-09-12) (उम्र 47)
तोर्रे अन्नुनसियात, इटली
राष्ट्रीयता इतालवी
क्षेत्र गणित

सिसैरा का जन्म नापोलि में हुआ। उन्हें अपसारी श्रेणी के संकलन के लिए अपनी औसत विधि के लिए जाना जाता है जिसे अब सिसैरा माध्य के नाम से भी जाना जाता है।

सिसैरा द्वारा रचित पुस्तकेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें