अष्टांगसंग्रह आयुर्वेद का प्रसिद्ध ग्रन्थ है। इसके रचयिता वाग्भट हैं।

इसके आठ भाग (स्थान) हैं-

  1. सूत्रस्थानम्
  2. शरीरस्थानम्
  3. निदानस्थानम्
  4. चिकित्सितस्थानम्
  5. कल्पस्थानम्
  6. उत्तरस्थानम्

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें