अहमद हसन जेवेइल(अरवी:أحمد حسن زويل), IPA: [ˈæħmæd ˈħæsæn zeˈweːl]; 26 फरवरी, 1946 – 2 अगस्त, 2016[1])एक मिस्त्री-अमेरिकन वैज्ञानिक थे। वे विज्ञान क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार प्राप्त करने वाले प्रथम अरब वैज्ञानिक थे। वे कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में रसायन विज्ञान एवं भौतिक विज्ञान के प्रोफेसर थे। इन्हें वर्ष 1999 का रसायन विज्ञान का नोबेल पुरस्कार फेमटोकेमिस्ट्री के अध्ययन हेतु प्रदान किया गया था। वे अमेरिका के राष्ट्रपति राष्ट्रपति बराक ओबामा के वैज्ञानिक सलाहकार भी रह चुके हैं। उन्हें फेमटोकेमिस्ट्री (FemtoChemistry) का जनक माना जाता है।[2]

अहमद जेवेइल

2009 में अहमद जेवेइल
मूल नाम 'أحمد حسن زويل
जन्म अहमद हसन जेवेइल
26 फ़रवरी 1946
डैमन हावर, मिस्र
मृत्यु अगस्त 2, 2016(2016-08-02) (उम्र 70)
पासाडेना, कैलिफोर्निया, संयुक्त राज्य अमेरिका
राष्ट्रीयता मिस्त्री
अमेरिकन
क्षेत्र रसायन एवं भौतिकी
शिक्षा अलेक्जेंड्रिया विश्वविद्यालय(बीएस, एमएस)
पेनसिल्वेनिया विश्वविद्यालय(पीएचडी)
प्रसिद्धि फेमटोकेमिस्ट्री के जनक

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 6 अगस्त 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 अगस्त 2016.
  2. "Physical Biology Center for Ultrafast Science & Technology - Caltech" [विज्ञान और प्रौद्योगिकी के लिए शारीरिक जीवविज्ञान केंद्र-कैलटेक] (अंग्रेज़ी में). मूल से 9 अगस्त 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 अगस्त 2016.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें