आण्विक ज्यामिति (Molecular geometry) से तात्पर्य किसी अणु में परमाणुओं की त्रिबीमीय स्थिति से है। आणविक ज्यामिति कई कारणों से महत्वपूर्ण है। इससे ही पदार्थ के अनेक गुण जैसे क्रियाशीलता, ध्रुवता, रंग, फेज, चुम्बकीयता तथा जैविक क्रियाशीलता आदि निर्धारित होते हैं।

जल के अणु में परमाणुओं का विन्यास

आणविक ज्यामिति के प्रकारसंपादित करें

  • रैखिक (linear)
  • समतल त्रिकोणीय
  • बंक या मुड़ी हुई (bent)
  • चतुष्फलकीय
  • अष्टफलकीय (ऑक्टाहेड्रल)
  • पिरामिडीय

आण्विक ज्यामिति की सारणी (VSEPR सारणी)संपादित करें

आबंधक एलेक्ट्रॉन-युग्म उधार युग्म (Lone pairs) एलेक्ट्रॉन डोमेन आकार आदर्श बन्ध कोण उदाहरण छबि
2
0
2
रैखिक
180°
3
0
3
समतल त्रिकोणीय
120°
2
1
3
मुड़ी हुई (bent)
120° (119°)
4
0
4
चतुष्फलकीय
109.5°
3
1
4
त्रिकोणीय पिरामिडीय
107°
2
2
4
bent
109.5° (104.5°)
5
0
5
त्रिकोणीय द्विपिरामिडीय
90°, 120°, 180°
4
1
5
सी-सा
180°, 120°, 90° (173.1°, 101.6°)
3
2
5
टी-आकारिक
90°, 180° (87.5°, < 180°)
2
3
5
linear
180°
6
0
6
अष्टफलकीय
90°, 180°
5
1
6
वर्ग पिरामिडीय
90° (84.8°), 180°
4
2
6
समतल वर्ग
90°, 180°
7
0
7
पंचभुज पिरामिडीय
90°, 72°, 180°
6
1
7
पंचभुज पिरामिडीय
72°, 90°, 144°
XeOF5
5
2
7
समतल पंचभुज
72°, 144°
8
0
8
वर्ग एंटी-प्रिज्मीय
9
0
9
tricapped trigonal prismatic