मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता

(आशा (बहुविकल्पी) से अनुप्रेषित)

मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता (अंग्रेज़ी: Accredited Social Health Activist) जिसे संक्षेप में आशा भी कहते हैं, भारत में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा प्रायोजित जननी सुरक्षा योजना से संबद्ध एक ग्रामीण स्तर की कार्यकर्त्री है। आशा का कार्य स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र के माध्यम से गरीब महिलाओं को स्वास्थ्य संबंधी सेवाएँ प्रदान करना है। राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन (NRHM) योजना आशा के माध्यम से क्रियान्वित हो रही है। 2005 में आरंभ की गयी इस योजना का लक्ष्य 2012 तक पूरी तरह क्रियान्वित किये जाने का था। एक बार पूर्ण रूप से क्रियान्वित होने के पश्चात भारत के प्रत्येक गाँव में एक आशा की नियुक्ति आवश्यक होगी, इस लक्ष्य के अनुसार 10 राज्यों में लगभग 2.5 लाख आशा कर्मियों की आवश्यकता का अनुमान है।[1] योजना भारत के 2012-13 के संघीय बजट के अनुसार आशा अब ग्रामीण स्वास्थ्य तथा स्वच्छता समिति की संयोजक होगी तथा कुपोषण संबंधी योजनाओं में भी सहायता करेगी।[2] जनवरी 2013 के आँकड़ों के अनुसार भारत में आशा कर्मियों की कुल संख्या ८६३५०६ अनुमानित की गयी।[3]

एक आशा 1000 की जनसंख्या पर नियुक्त की जाती है|आशा एएनएम के अंतर्गत कार्य करती है आयु 25 से 45 वर्ष के मध्य होनी चाहिए प्रति हजार लोगों के बीच एक आशा कार्यरत होती है

  आशा का प्रशिक्षण
1आशा के प्रशिक्षण के लिए राज्य जिला व ब्लाक स्तर पर तीन से चार कि शिक्षकों की टीम तैयार की जाएगी |

2.आशा को कार्य करने के लिए एएनएम तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का सहयोग प्राप्त होगा प्रारंभिक शिक्षा के पश्चात आशा को हर दूसरे महीने 2 दिनों का नियत कालीन प्रशिक्षण दिया जाएगा |

3. आशा को प्रशिक्षण देने के लिए व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अथवा पंचायत भवन रखा जाएगा

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "MoHFW. National Rural Health Mission 2005-2012: Mission Document" (PDF). मूल (PDF) से 12 जून 2009 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 23 अक्तूबर 2013.
  2. "ASHA". मूल से 27 अप्रैल 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 23 जून 2012.
  3. "MoHFW. Update on the Asha programme, January 2013". मूल से 10 सितंबर 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 15 जून 2020.