मुख्य मेनू खोलें
इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केन्द्र, नयी दिल्ली

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र कलाओं के क्षेत्र में शोध और शैक्षिक अनुसंधान तथा प्रसार का केंद्र है। इसकी स्थापना भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय के अधीन एक स्वायत्त निकाय के रूप में सन १९८७ में की गई थी। यह केंद्र 'कला' के एक ऐसे व्यापक प्रतिबिंब के रूप में पहचाना जाता है जिसमें पुरातत्त्व से लेकर नृत्य और मानव विज्ञान से लेकर छायाचित्रण तक का, पूरक तथा अनंत दृश्य के रूप में समावेश हो।

इकाइयाँसंपादित करें

 
केन्द्र में स्थित छत्तिसगढ़ी द्वार

इस केंद्र की छः कार्यात्मक इकाइयाँ हैं-

  • कलानिधि : यह एक विविध-रूप पुस्तकालय है,
  • कलाकोश : इसका प्रमुख कार्य विशेषतया संस्कृत के मूल पाठ के अध्ययन और प्रकाशन से संबंधित है।
  • जनपद संपदा : यह प्रभाग जीवन-शैली से जुड़े अध्ययन का कार्य करता है।
  • कला दर्शन : इस इकाई का कार्य इस केंद्र द्वारा किए गए शोध कार्यों और अध्ययन को प्रदर्शनियों के माध्यम से दृश्य रूप में परिवर्तित करना है,
  • सांस्कृतिक सूचना-विज्ञान प्रयोगशाला : यह इकाई सांस्कृतिक परिक्षण तथा प्रचार के लिए प्रौद्योगिकीय साधनों का प्रयोग करती है।
  • सूत्रधार : यह प्रशासनिक अनुभाग है जो सभी गतिविधियों में सहायता तथा समन्वय स्थापित करता है। सदस्य सचिव, शैक्षिक और प्रशासनिक प्रभागों के कार्यपालक प्रधान होते हैं।

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र का एक दक्षिण क्षेत्रीय केंद्र है जिसका मुख्यालय बंगलौर में है। इसकी स्थापना २००१ में हुई थी और इसका मुख्य उद्देश्य दक्षिणी क्षेत्र की कला और सांस्कृतिक विरासत से संबंधित गहन अध्ययन करना है।

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें