उड़न राख (Fly ash) बहुत सी चीजों (जैसे कोयला) को जलाने से निर्मित पदार्थ है जो महीन कणों से निर्मित होती है। ये हल्के कण उत्सर्जित गैसों के साथ ऊपर उठ जाते हैं (जो राख ऊपर नहीं उठती वह 'पेंदी की राख' कहलाती है।) कोयले से चलने वाले विद्युत संयंत्रों में उत्पन्न उड़न राख को प्रायः चिमनियों से ग्रहण कर लिया जाता है। सभी उड़न राखों में सिलिकन डाईआक्साइड (SiO2) और कैल्सियम आक्साइड (CaO) अच्छी मात्रा में होता है। इसके अलावा भी बहुत सी चीजें इसमें होतीं हैं।

एलेक्ट्रॉन सूक्ष्मदर्शी द्वारा २००० गुना आवर्धन करने पर दृष्यमान उड़नराख के कण

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें