उन सभी पदार्थों या प्रक्रियाओं को उपचार कहते हैं जो रोग से मुक्ति प्रदान करते हैं, जैसे औषधियाँ', शल्यचिकित्सा, जीवनशैली में परिवर्तन आदि। इसमें वह दार्शनिक मानसिकता (mindset) भी सम्मिलित की जा सकती है व्यक्ति को रोगमुक्त करने में सहायक हो।

जब किसिको कोई भी पीड़ा या बिमारी होती हे तब उसे उपचार देना जरूरी हे। आज भी हमारे इस संसार मे बोहत सारे रोगो का उपचार अभी भी सम्भब नेही हे। लेकिन आज हमने बोहत बिकाश कर चुके हे उपचार की क्षेत्र मे और आगे भी करते रहेंगे। आज हमने बोहत बड़ै बड़े रोगो का उपचार निकाल दिया। जिन रोगो कि बजेह से पेहले बोहत सारे लोगो का मोत हो जाता था। जैसा की मलेरिया, टीबी, टाइफाइड आदि।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें