एम॰ पी॰ वीरेंद्रकुमार

भारतीय राजनीतिज्ञ
(एम.पी. वीरेन्द्र कुमार से अनुप्रेषित)

एम॰ पी॰ वीरेंद्रकुमार (मलयालम: എം.പി. വീരേന്ദ്രകുമാർ, जन्म: 15 अगस्त 1937), भारत से 14 वीं लोकसभा के सदस्य हैं। वे समाजवादी जनता (डेमोक्रेटिक) राजनीतिक दल के एक सदस्य और पार्टी की केरल राज्य इकाई के अध्यक्ष हैं। वे मलयालम भाषा के एक प्रमुख लेखक भी हैं। उन्हें उनके यात्रा वृतांत हैमवतभूविल के लिए वर्ष 2010 में साहित्य अकादमी पुरस्कार प्रदान किया गया था। वे मलयालम भाषा के प्रमुख समाचार पत्र 'मातृभूमि' के प्रबंध निदेशक हैं।[2]

M. P. Veerendra Kumar
M. P. Veerendra Kumar DS.jpg

पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
23 March 2018
पद बहाल
3 April 2016 – 20 December 2017
पूर्वा धिकारी T. N. Seema , CPI(M)

पद बहाल
2004–2009
पूर्वा धिकारी K. Muraleedharan
उत्तरा धिकारी M. K. Raghavan
चुनाव-क्षेत्र Kozhikode
पद बहाल
1996–1998
पूर्वा धिकारी K. Muraleedharan
उत्तरा धिकारी P. Sankaran
चुनाव-क्षेत्र Kozhikode

जन्म 22 जुलाई 1936 (1936-07-22) (आयु 84)[1]
राजनीतिक दल Independent (from 24 March 2018)
अन्य राजनीतिक
संबद्धताऐं
JD(U) (till 20 December 2017)
As of 23 September, 2006
Source: [1]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 8 अप्रैल 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 8 अप्रैल 2020.
  2. "Veerendra Kumar, Nanjil Nadan among Sahitya Akademi winners" [वीरेन्द्र कुमार और नानजी नादान को साहित्य अकादमी पुरस्कार] (अंग्रेज़ी में). दि हिन्दू. 9 मई 2008. मूल से 21 अप्रैल 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 जुलाई 2014.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें