एयरएशिया इंडिया[1] भारतीय – मलेशियन कम कीमत की प्रस्तावित वाहक सेवा है। यह एयर एशिया की सहायक सेवा है जो की एशिया की सबसे बड़ी कम किराये वाली सेवा है।[2][3] १९ फरबरी २०१३ को ऐसे घोषणा की गयी है की यह एयर लाइन सहायक कार्य के रूप में टाटा संस एवं एयर एशिया द्वारा संचालित की जाएगी जिसमें एयर एशिया का ४९ % मालिकाना दायित्वा होगा, टाटा संस का ३० %, तथा अमित भाटिया का बचा हुआ २१ % मालिकाना हक होगा। यह सहायक कार्य टाटा के उडान इंडस्ट्री में ६० साल के बाद वापसी के रूप में भी देखा जा सकता है।[4][5]

एयर एशिया इंडिया
नियति सक्रिय
स्थापना बंगलौर Edit this on Wikidata 2013 Edit this on Wikidata
मुख्यालय बंगलौर Edit this on Wikidata, भारत Edit this on Wikidata
स्वामित्व टाटा संस Edit this on Wikidata
वेबसाइट http://www.airasia.com/in/en/home.page Edit this on Wikidata

एयर इंडिया पहली ऐसे विदेशी एयरलाइन है जिसकी सहायक सेवा भारत में स्थापित की गयी है।

इतिहाससंपादित करें

इस एयर लाइन की उत्पत्ति अक्टूबर २०१२ से है जबकि एयर एशिया भारत के बहार ऐसे संचालन के लिए बहुत ही उत्सुक थी जिसमें की उडान का वातावरण, टैक्स की रूप रेखा बहुत ही सौहार्द पूर्ण हो तथा कम कीमत वाली हो। भारत सरकार के, ‘एक विदेशी फर्म को ४९ % से ज्यादा कीमत लगाने की अनुमति’ के बाद से, एयर एशिया नें फरबरी २०१३ ने भारत में संचालन के लिए फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड से प्रस्ताव को पास करवाने के लिए दरख्वास्त की।[6] टाटा इंडिया नें घोषणा की कि यह टाटा संस एवं टेल्स्ट्रा ट्रेड प्लेस के साथ उनकी सहायक सेवा होगी। टाटा संस अपने दो नॉन – एग्जीक्यूटिव निर्देशकों के साथ एयरलाइन के बोर्ड में अपना प्रतिनिधित्वा करेगी। एयर इंडिया संचालन में कई शहरों को शामिल करने की बात सोच रही है, जिसमें चेन्नई इंटरनेशनल एयर पोर्ट को संचालन का मुख्य स्थान बनाने के अलावा कई अन्य २ टियर एवं ३ टियर शहरों को भी शामिल किया गया है।[7] के पी एम् जी के अनुसार एयर एशिया की शुरुआत एक और ‘मुद्रा से सम्बंधित लडाई’ को संभावित रूप से जन्म दे सकती है। जैसा की किराया कम होगा तो यात्रियों की संख्या में भी संभावित रूप से बृद्धि होगी। जिससे की एयर ट्रैफिक में बृद्धि होती चली जाएगी जिससे भारतीय उड़ान क्षेत्र में बड़े परिवर्तन आने की संभावना है।[8]

मैनेजमेंटसंपादित करें

एयरलाइन के निर्माण के पूर्व, टोनी फर्नांडिस नें घोषणा की कि वे चाहते हैं की रतन टाटा इस एयरलाइन्स के चेयरमैन बनें, जिसे की ठुकरा दिया गया, हालाँकि बाद में वो एयर एशिया इंडिया मैनेजमेंट बोर्ड के मुख्य सुझाव दाता अधिकारी बन गये। १५ मई २०१३ को एयर एशिया इंडिया नें मेनेजमेंट परामर्श दाता के रूप में मित्तू चंडिल्य को सी ई ओ के रूप में नियुक्त किया।[9]

बेडासंपादित करें

एयर एशिया एयर बस ए ३२० – २२० एयरक्राफ्ट के परिचालन की योजना बना रहा है। एयरलाइन पहले तो ३ या ४ ए ३२० की नियुक्ति करेगी तथा बाद में कार्य चल निकलने पर अपना बेडा बढा लेगी।[10]

एयर एशिया इंडिया बेडा
एयरक्राफ्ट बेड़े में आर्डर यात्री
एयर बस ए ३२० – २२० --
टी बी ए
१८०

सन्दर्भसंपादित करें

  1. ""एयर इंडिया इन्कोर्पोर्ट्स कंपनी फॉर इंडियन वेंचर"". दि टाइम्स ऑफ़ इंडिया (न्यू डेल्ही). ३१ मार्च २०१३. मूल से 31 मार्च 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि ३१ मार्च २०१३. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  2. ""बुक चीप एर एशिया फ्लाइट्स"". मूल से 26 दिसंबर 2013 को पुरालेखित.
  3. कुर्लान्त्जिक, जोशुआ (23 दिसम्बर 2007). ""डज लो कास्ट मीन्स हाई रिस्क?"". दि न्यू यॉर्क टाइम्स. मूल से 16 जून 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 अप्रैल 2010.. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  4. ""एयर एशिया तो टाई अप विद टाटा संस फॉर न्यू एयरलाइन इन इंडिया"". टाइम्स ऑफ़ इंडिया. मूल से 27 अप्रैल 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि २१ फरबरी २०१३.. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  5. ""टाटा संस, टेलेस्त्रा ट्रेड प्लेस एंड एयर एशिया तो फ्रॉम एयर एशिया इंडिया"". इकनोमिक टाइम्स. २० फरबरी २०१३. मूल से 7 नवंबर 2016 को पुरालेखित. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  6. ""एयर एशिया इंडिया तो टेक तो थे स्काइज इन क्यू ४"". एम् सी आई एल मल्टीमीडिया एस डी एन बी–एच–डी. मूल से 24 फ़रवरी 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि २१ फरबरी २०१३.. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  7. ""टाटाज प्लान रिटर्न फ्लाइट्स विद एयर एशिया ओं बोर्ड"". एन डी टी वी प्रॉफिट. मूल से 21 फ़रवरी 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि २१ फरबरी २०१३.. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  8. ""एयर एशिया'ज इंडिया फॉर अ गुड न्यूज़; सी मोर कम्पटीशन : के पी एम् जी"". सी एन बी सी. मूल से 4 मार्च 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि २१ फरबरी २०१३.. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  9. ""एयर एशिया वांट्स रतन टाटा तो हेड जे वी"". दि इकनोमिक टाइम्स. मूल से 26 दिसंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 फरबरी 2013.. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  10. ""एयर एशिया तो इन्वेस्ट अप टू $60 मिलिअन इन एयर लाइन वेंचर विद टाटा"". दि इकनोमिक टाइम्स. मूल से 23 अगस्त 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि २१ फरबरी २०१३.. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)