एलिज़ाबेथ गोन्ज़ागा का चित्र (Portrait of Elisabetta Gonzaga) पुनर्जागरण काल में प्रसिद्ध चित्रकार राफेल द्वारा रचित चित्र है।[1] यह इटली के शहर फ्लोरेंस के उफ़िज़ी गैलरी नामक कला संग्रहालय में रखा हुआ है।

एलिज़ाबेथ गोन्ज़ागा का चित्र
कलाकार राफेल
वर्ष c.1504–1505
प्रकार लकडी पर तेल से रंगाई
Dimensions 52.9 cm × 37.4 cm (20.8 इंच × 14.7 इंच)
स्थान उफ़ीज़ी, फ्लोरेंस

इतिहाससंपादित करें

इतिहासकार बताते हैं कि एलिज़ाबेथ गोन्ज़ागा का चित्र उस समय के इटली के प्रसिद्ध चित्रकार राफेल ने बनाया था।

यह चित्र सम्भवत: अर्बिनो के ड्युकल संग्रह का हिस्सा था जिसे १६३५ में विट्टोरिया डेला रोवेरे के दहेज में फ्लोरेंस लाया गया था। १७८५ के आसपास इस चित्र को गियोवानी बेलिनी के विद्दालय से निर्मित बताया गया और बाद में १८२५ में इसे बनाने का श्रेय एंड्रिया मेंटेग्ना को दिया गया। १९०५ में ही पहली बार इसे बनाने का श्रेय राफेल को दिया गया।[2]

विवरणसंपादित करें

एलिज़ाबेथ गोन्ज़ागा नामक जो महिला इस चित्र में चित्रित है , वह अर्बिनो के ड्यूक गुईडीबाल्डो १ की पत्नी थीं। एलिसाबेट का यह चित्र उफ़िज़ी में चित्र के समीप लगा हुआ है। पैच के काम से सुसज्जित काली पोशाक और माथे पर बिच्छू के निशान वाली एक माला इस चित्र की खास पहचान है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "पोट्रेट ऑफ एलिसाबेथ गोन्ज़ागा". मूल से 13 अक्तूबर 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि १४-०४-२०१५. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  2. "इतिहास में पोट्रेट ऑफ एलिसाबेट गोन्ज़ागा". मूल से 26 मार्च 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि १४-०४-२०१५. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  • डे वेक्की, पिएर्लुइगी (1975). राफाएलो. मिलान: रिज़्ज़ोली.