ए एस किरण कुमार भारत के एक प्रसिद्ध वैज्ञानिक हैं तथा वे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष हैं। 14 जनवरी 2015 को उन्होंने इसरो के अध्यक्ष का पदभार ग्रहण किया। इससे पू्र्व वे अंतरिक्ष अनुप्रयोग केंद्र, अहमदाबाद के निदेशक थे।[1]

ए एस किरण कुमार
आवास Flag of India.svg भारत
राष्ट्रीयता Flag of India.svg भारतीय
क्षेत्र अंतरिक्ष अनुसंधान
संस्थान अंतरिक्ष अनुप्रयोग केंद्र, अहमदाबाद, इसरो
प्रसिद्धि मंगलयान

कार्यकाल
14 जनवरी 2015 से
पूर्वा धिकारी के राधाकृष्णन

श्री किरण कुमार ने 1975 में इसरो के अंतरिक्ष अनुप्रयोग केंद्र से अपने करियर की शुरूआत की थी। बाद में वह इस केंद्र के एसोसिएट डायरेक्टर और मार्च, 2012 में अंतरिक्ष अनुप्रयोग केंद्र के निदेशक बने। उन्होंने एयरबोर्न के लिए इलेक्ट्रो ऑप्टिकल इमेजिंग सेंसर के निर्माण और विकास, भास्कर टीवी पेलोड से लेकर वर्तमान मार्स कलर कैमरा, थर्मल इंफ्रेडिड इमेजिंग स्पेक्ट्रोमीटर और भारत के मार्स आर्बिटर अंतरिक्ष यान के मार्स उपकरणों के लिए मीथेन सेंसर के निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान दिया।[1]

श्री किरण कुमार ने मंगल ग्रह की ओर भेजे गए मार्स आर्बिटर अंतरिक्ष यान के साथ साथ इसे मंगल की कक्षा में स्थापित करने के मामले में सफलतापूर्वक रणनीतियां बनाई। उन्होंने भूमि, महासागर, वातावरण और ग्रह से जुड़े अध्ययनों में भी अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

श्री किरण कुमार ने अंतर्राष्ट्रीय मौसम विज्ञान संगठन, पृथ्वी निगरानी उपग्रह समिति और नागरिक अंतरिक्ष सहयोग पर भारत-अमरीका संयुक्त कार्यकारी समूह जैसे अंतर्राष्ट्रीय मंचों में इसरो का प्रतिनिधित्व किया।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "ए. एस. किरण कुमार ने अंतरिक्ष विभाग के सचिव, अंतरिक्ष आयोग के अध्यक्ष और इसरो के अध्यक्ष का पदभार संभाला". पत्र सूचना कार्यालय, भारत सरकार. 14 जनवरी 2015. मूल से 19 फ़रवरी 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 फ़रवरी 2015.