ऐड-डि-कैम्‍प (संक्षेप में: ऐडीसी, फ्राँसीसी में: Aide-de-camp, or ADC, बहुवचन: एड्ज़-डि-कैम्प, Aides-de-camp) एक फ्राँसीसी शब्द है जिसका अर्थ है युद्धभूमि में सहायक। सामान्यतः यह एक पदवी है जो सेना के उन वरिष्ठतम अधिकारियों को दी जाती है जो किसी राष्ट्राध्यक्ष, सेनाध्यक्ष, किसी उच्च सरकारी अधिकारी अथवा राजसी परिवार के सदस्य के लिए व्यक्तिगत सचिव, सहायक या सलाहकार आदि की भूमिका निभाते हैं। एसे अधिकारी अपने नाम के साथ सम्मानों की सूची के अन्त में एडीसी लिखते हैं।[1]

विभिन्न देशों में राष्ट्राध्यक्षों के लिए एडीसी की परंपराएं, व्यवस्था, प्रणालियाँ आदि अलग अलग तरीके से निर्धारित होती हैं। भारत में मेजर जनरल व इससे ऊपर रैंक के अधिकारी सामान्यतः एडीसी रखते हैं। सामान्यतः भारत के सेनाध्यक्ष तीन व भारत के राष्ट्रपति के पाँच एडीसी होते हैं। भारतीय राज्यों के राज्यपाल सामान्यतः दो एडीसी रखते हैं जिनमें से एक सेना से तथा दूसरे पुलिस सेवा से होते हैं, सिवाय जम्मू कश्मीर के राज्यपाल के जिनके दोनों एडीसी सेना से ही होते हैं।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "राष्‍ट्रपति के ऐड्ज़-डि-कैम्‍प (एडीसी) के पहले आधिकारिक पुनर्मिलन की राष्‍ट्रपति भवन द्वारा मेजबानी". पत्र सूचना कार्यालय, भारत सरकार. 5 मई 2014. मूल से 22 मई 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 मई 2014.