ऐ मेरे वतन के लोगो एक हिन्दी देशभक्ति गीत है जिसे कवि प्रदीप ने लिखा था और जिसे सी॰ रामचंद्र ने संगीत दिया था। ये गीत १९६२ के चीनी आक्रमण के समय मारे गए भारतीय सैनिकों को समर्पित था। यह गीत तब मशहूर हुआ जब लता मंगेशकर ने इसे नई दिल्ली में गणतंत्र दिवस के अवसर पर रामलीला मैदान में तत्कालीन प्रधानमंत्री पं॰ जवाहरलाल नेहरू की उपस्थिति में गाया।। चीन से हुए युद्ध के बाद 27 जनवरी 1963 में डेल्ही नेशनल स्टेडियम में स्वर कोकिला लता मंगेशकर ने दिया था। यह कहा जाता है इस गाने को सुनने के बाद नेहरु जी की ऑंखें भर आई थीं।[1][2]

ऐ मेरे वतन के लोगों
[[File:||देशभक्ति गीत]]
देशभक्ति गीत


सन्दर्भसंपादित करें

  1. पवन झा (15 अगस्त 2013). "आज़ादी के मशहूर तराने". बीबीसी हिन्दी. अभिगमन तिथि 15 अगस्त 2013.
  2. "'Ai mere vatan ke logon '" ['ऐ मेरे वतन के लोगों' ५० वर्ष का।] (अंग्रेज़ी में). द टाइम्स ऑफ़ इण्डिया. 25 जनवरी 2013. अभिगमन तिथि 15 अगस्त 2013.
  1. क्रमांकित सूची आइटम सुश्री लता मंगेशकर के गाये गीत के अनुसार शब्दशः सुधार दिनांक 5 जनवरी 2014, प्राइम टाइम इन्फोमीडिया प्राइवेट लिमिटेड़, मुंबई

बह्य सूत्रसंपादित करें