मुख्य मेनू खोलें
रासायन उत्पादक कारखाना

रासायनिक उद्योग (chemical industry) में वे सब उद्योग आते हैं जो औद्योगिक रसायनों का उत्पादन करते हैं। रासायनिक उद्योग संसार की वर्तमान अर्थव्यवस्था की रीढ़ है। ये उद्योग कच्चे माल (जैसे तेल, प्राकृतिक गैस, वायु, जल, धातुएं, खनिज आदि) को ७०,००० से भी अधिक विभिन्न उत्पादों में परिवर्तित करते हैं।

इतिहाससंपादित करें

वैसे तो कम मात्रा में अनेकों रसायनों का उत्पादन आज से कई हजार वर्ष पूर्व भी होता था किन्तु अधिक मात्रा में रसायनों का उत्पादन उन्नीसवीं शताब्दी में आरम्भ हुआ। वास्तव में रसायन उद्योग का जन्म औद्योगिक क्रांति के साथ-साथ किन्तु स्वतन्त्र रूप से हुआ।

  • १७३६ में जोशुआ वार्ड (Joshua Ward) ने गंधकाम्ल के के पुंज उत्पादन (mass production) की एक प्रक्रिया खोज निकाली। इस प्रक्रिया में साल्टपीटर को गरम किया जाता है ताकि गंधक आक्सीकृत हो और जल से अभिक्रिया करके गन्धकाम्ल बनाये। भारी मात्रा में गन्धकाम्ल के निर्माण की यह पहली प्रक्रिया थी।
  • १८२३ में ब्रिटेन के उद्यमी जेम्स मुस्प्रात (James Muspratt) ने सोडियम कार्बोनेट का पुंज उत्पादन शुरू किया।
  • १८४८ विश्व का पहला आधुनिक तेल का कुँआ अजरबैजान में खोदा गया।
  • कार्बनिक रसायन के क्षेत्र में विकास के कारण १८५० के दशक तक कोलतार से संश्लेषित रंजकों का निर्माण शुरू हो गया॥
  • १८६१ में बेल्जियम के उद्यमी एवं रसायनज्ञ अर्न्स्ट साल्वे (Ernest Solvay) ने सोडियम बाईकार्बोनेट के निर्माण की विधि विकसित की।
  • १८६९ सेलुलायड नामक पहले प्लास्टिक का निर्माण अमेरिका के जॉन हयात ने किया। इसका बहुत अधिक वाणिज्यिक उपयोग हुआ।
  • १८९० के दशक में जर्मन कम्पनियाँ गंधकाम्ल का पुंज उत्पाद करने लगीं।
  • १८९० के ही दशक में विद्युत अपघटन की विधि से कास्टिक सोडा और क्लोरीन का पुंज उत्पादन होने लगा।
  • १८९७ में जर्मनी के बादिश (Badishe) ने वाणिज्यिक पैमाने पर संश्लेषित नील (इण्डिगो) का उत्पादन शुरू किया।
  • १९०९ में यूएसए की अमेरिकन स्यानामिड नामक कम्पनी ने संश्लेषित उर्वरकों का निर्माण आरम्भ किया जिससे 'हरित क्रान्ति' हुई और फसलों की उत्पादकता में अतिशय वृद्धि हुई।
  • १९१४ में काष्ठ के रेशों से रेयान नामक मानव-निर्मित रेशे का निर्माण शुरू हुआ।

रसायन उद्योग के उत्पादसंपादित करें

सम्पूर्ण रासायनिक उद्योगों के लगभग ८० प्रतिशत बहुलक एवं प्लास्टिक (Polymers and plastics) उत्पाद होते हैं।

उत्पाद का प्रकार उदाहरण
अकार्बनिक उद्योग अमोनिया, नाइट्रोजन, कास्टिक सोडा, सल्फ्युरिक अम्ल, नाइट्रिक अम्ल
कार्बनिक उद्योग एक्रिलोनाइट्राइल (Acrylonitrile), फिनॉल, एथीलीन आक्साइड, यूरिया
सिरैमिक सिलिका, फ्रिट (frit)
पेट्रोरसायन बेंजीन, एथीलीन, स्टीरीन
कृषि रसायन उर्वरक, कीटनाशक, शाकनाशक
बहुलक पॉलीथीन, बैकेलाइट, पॉलीएस्टर
इलास्टोमर पॉलीआइसोप्रीन, निओप्रीन, पॉलीयूरेथीन
तेल और वसा शूकर वसा (lard), सोया तेल, स्टीरीन (Stearin)
विस्फोटक नाइट्रोग्लीसरीन, अमोनियम नाइट्रेट, नाइट्रोसेलुलोज
इत्र और फ्लेवर बेंजिलबेंजोएट, कूमरिन (Coumarin), वनिलिन

इक्कीसवीं शताब्दी की प्रमुख रासायनिक कम्पनियाँसंपादित करें

रासायनिक उद्योग के अन्तर्गत बड़ी, मध्यम एवं लघु रासायनिक कम्पनिया आती हैं जो विश्व के विभिन्न भागों में स्थित हैं। नीचे उन कम्पनियों को दर्शाया गया है जिनका कारोबार सन् २००७ में १० बिलियन अमेरिकी डॉलर से अधिक हुआ।

कम्पनी, मुख्यालय 2007 में रसायनों की बिक्री (बिलियन डालर में)[1] स्थान (रैंक) देश
बीएएसएफ (BASF) SE, Ludwigshafen, जर्मनी $65.3 1  
डो केमिकल (Dow Chemical), Midland, Mich. $53.5 2  
INEOS, Lyndhurst, UK $43.6 3  
LyondellBasell, Houston, Texas $42.8 4  
Formosa Plastics, Taiwan $31.9 5  
DuPont, Wilmington, Delaware $28.5 6  
Saudi Basic Industries Corporation, Riyadh, Saudi Arabia $26.4 7  
Bayer, AG, Leverkusen, Germany $24.2 8  
Mitsubishi Chemical, Tokyo, Japan $22.2 9  
Akzo Nobel/Imperial Chemical Industries(ICI), Amsterdam/London $19.9 10   
Air Liquide, Paris, France $16.3 11  
Sumitomo Chemical, Tokyo, Japan $15.2 12  
Evonik Industries, AG, Essen, Germany $15.0 13  
Mitsui Chemicals, Tokyo, Japan $14.3 14  
Asahi Kasei, Tokyo, Japan $13.8 15  
Toray Industries, Tokyo, Japan $13.1 16  
Chevron Phillips, The Woodlands, Texas $12.5 17  
DSM NV, Heerlen, Netherlands $12.1 18  
PPG Industries, Pittsburgh, Pennsylvania $11.2 19  
Shin-Etsu Chemical Co., Ltd., Tokyo, Japan $11.1 20  

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "INEOS_Gassmaks09_Trondheim_Final". अभिगमन तिथि 2009-06-06.

इन्हें भी देखेंसंपादित करें