औषधि

रोग का निदान, इलाज, उपचार या रोकथाम के लिए उपयोग किया जाने वाला पदार्थ
(औषध से अनुप्रेषित)

कोई भी रासायनिक पदार्थ जिसका सेवन करने पर किसी जीव के शरीर या मन में परिवर्तन होता है, उसे औषधि (ड्रग) कहते हैं। [1] सामान्यतः औषधि को भोजन तथा पोषण प्रदान करने वाले अन्य पदार्थों से अलग माना जाता है। दवाओं का सेवन साँस के माध्यम से, इंजेक्शन द्वारा, धूम्रपान द्वारा, अंतर्ग्रहण द्वारा, त्वचा पर एक पैच के माध्यम से अवशोषण के द्वारा, सपोसिटरी, या जीभ के नीचे विघटन के माध्यम से किय जाता है।

लेपनरहित एस्पिरिन की गोलियां । इनसमें लगभग 90% एसिटाइलसैलिसिलिक अम्ल होता है, साथ में थोड़ी मात्रा में अक्रिय फिलर्स और बाइंडर भी होते हैं। एस्पिरिन एक भैषजिक औषधि है जिसका उपयोग प्रायः दर्द, बुखार और सूजन के इलाज के लिए किया जाता है।

औषध विज्ञान में, दवाएँ वे रासायनिक पदार्थ है, जो आमतौर पर ज्ञात संरचना का होते हैं। इनका उपयोग किसी बीमारी को दूर करने, बीमारी की रोकथाम या निदान या भलाई को बढ़ावा देने के लिए किया जाता है। परम्परागत रूप से दवाएं औषधीय पौधों से निष्कर्षण के माध्यम से प्राप्त की जाती थीं, लेकिन हाल ही में कार्बनिक संश्लेषण द्वारा भी इनका निर्माण किया जाने लगा है। [2]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Drug Definition". Stedman's Medical Dictionary. मूल से 2014-05-02 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2014-05-01 – वाया Drugs.com.
  2. Atanasov AG, Waltenberger B, Pferschy-Wenzig EM, Linder T, Wawrosch C, Uhrin P, Temml V, Wang L, Schwaiger S, Heiss EH, Rollinger JM, Schuster D, Breuss JM, Bochkov V, Mihovilovic MD, Kopp B, Bauer R, Dirsch VM, Stuppner H (December 2015). "Discovery and resupply of pharmacologically active plant-derived natural products: A review". Biotechnol Adv. 33 (8): 1582–614. PMC 4748402. PMID 26281720. डीओआइ:10.1016/j.biotechadv.2015.08.001.