कंगला महल

मणिपुर की राजधानी इम्फाल में स्थित एक पुराना महल

कंगला महल (Kangla Palace) या कंगला किला (Kangla Fort) मणिपुर की राजधानी इम्फाल में स्थित एक पुराना महल (किला) है। यह इम्फाल नदी के दोनों (पूर्वी और पश्चिमी) किनारों पर विस्तृत है लेकिन अब इसके अधिकतर भाग के खंडहर ही बचे हैं। मणिपुरी भाषा में 'कंगला' का अर्थ 'सूखी भूमि' होता है और यह महल प्राचीनकाल में मणिपुर के मेइतेइ राजाओं का निवास हुआ करता था। सम्राट तंगजा लीला पखंगबा के शासनकाल १४४५ ईसा पूर्व (१५वीं शताब्दी ईसा पूर्व) से लेकर, कई राजवंशों के शासकों के प्रशासन की सीट के रूप में कार्य किया है। हालांकि महत्वपूर्ण उन्नत विकास नोंगडा लाइरेन पखंगबा (३३ ई. - १५३ ई.) के बाद के काल में आयोजित किया था। मणिपुर के प्राचीन इतिहास-ग्रंथ 'चैथारोल कुम्माबा' के अनुसार इस स्थान पर महल ३३ ईसवी काल से खड़ा था हालांकि यहाँ समय के साथ-साथ नए निर्माण होते रहे।[1]

Uttra Sanglen.JPG
इम्फाल में कंगला महल का मुख्यद्वार

चित्रसंपादित करें

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

अन्य वेबसाइटसंपादित करें

अग्रिम पठनसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Forts & Palaces of India: Sentinels of History, Bindu Manchanda, Page 137, Roli Books Private Limited, 2006, ISBN 9788174363817, ... The Kangla Fort holds deep historical, cultural and religious significance for the people of Manipur. It was the capital of the kingdom of Manipur, and became the centre for administration, trade and commerce, as well as culture and religion ...