कर अपवंचन (tax evasion) या कर चोरी (tax theft) व्यक्तियों, कम्पनियों और अन्य संस्थाओं द्वारा गैर-कानूनी रूप से कर न देने को कहते हैं। अक्सर ऐसा करने के लिए यह कर-दाता अपनी वास्तविक आर्थिक स्थिति को छुपाते हैं और वास्तविक्ता से अधिक बुरे हालात दिखाते हैं, जैसे कि व्यापार में वास्तविक्ता से अधिक घाटा, कम आय या कम लाभ। यह कर बचाव से बिलकुल अलग है, क्योंकि कर बचाव में कम कर देनें के कानूनी तरीके प्रयोग करे जाते हैं।[1][2]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Spiro, Peter S. (2005), "Tax Policy and the Underground Economy," in Christopher Bajada and Friedrich Schneider, eds., Size, Causes and Consequences of the Underground Economy (Ashgate Publishing).
  2. Hebous, Shafik (2011). "Money at the Docks of Tax Havens: A Guide". CESifo Working Paper Series. 70 (3587): 9. doi:10.1628/001522114X684547. hdl:10419/52472. S2CID 39873207. SSRN 1934164.