कामरान मिर्जा बाबर का पुत्र और हुमायूँ का सौतेला भाई था। कामरान मिर्जा ने मुग़ल साम्राज्य में काबुल और लाहौर का शासन ले लिया और बाबर ने मरने से पहले ही इस तरह से राज्य को बाँटा ताकि आगे चल कर दोनों भाइयों में लड़ाई न हो। कामरान आगे जाकर हुमायूँ का कड़ा प्रतिद्वंदी बना। हुमायूँ का शासन अफ़गानिस्तान, पाकिस्तान और उत्तर भारत के हिस्सों पर १५३०-१५४० और फिर १५५५-१५५६ तक रहा।