मुख्य मेनू खोलें

किम रुडयार्ड किपलिंग का लिखा एक उपन्यास है। किम इसका प्रमुख पात्र है वो एक आयरिश अनाथ है जो लाहौर में रहा करता था। एक दिन एक लामा के साथ यात्रा पे निकल जाता है। यात्रा में उसके पिता की रेजिमेंट उसको मिल जाती है। जिसका पादरी उसे गोद ले लेता है इसी बीच उसे ब्रिटिश भारत सरकार का खुफ़िया विभाग नौकरी पे ले लेता है। इसी उपन्यास में पहली बार दि ग्रेट गेम जैसा कूटनीतिक शब्द प्रयोग लाया गया था।