किशन महिपाल (1 जनवरी 1979) उत्तराखंड की दूरस्थ पहाड़ी क्षेत्र से एक लोकगायक। उत्तराखण्ड के पारंपरिक स्थानीय लोकगीतों को अपनी आवाज की मधुरता देखकर आज उत्तराखंड-सिनेमा के गायकों में अपनी एक अलग पहचान बनाई। गायक, गीतकार, निर्देशक, प्रतिभाशाली कलाकार किशन महिपाल... युवाओं की पहली पंसद, पिछले कुछ वर्षों में उत्तराखण्डी संगीत की ऊँचाइयों पर उभरकर आया है।

किशन महिपाल
Kishan.jpg
जन्म 01 जनवरी 1979
इन्द्रधारा गांव बद्रीनाथ, उत्तराखंड
व्यवसाय गायक, गीतकार, निर्देशक, कैमरामेन,
सक्रिय वर्ष 2005 से वर्तमान
वेबसाइट
www.kishanmahipal.com

आरंभिक दिनसंपादित करें

किशन महिपाल का जन्म इन्द्रधारा गांव (बद्रीनाथ, उत्तराखंड) के एक भोटिया परिवार में हुआ है। उनके बचपन का नाम रमेश है। उनकी माँ श्रीमती जेट्ठी देवी एक गृहणी हैं और पिता स्व. श्री नारायण सिंह एक किसान थे। अपनी उच्च स्तरीय पढाई पूरी करने के बाद किशन ने M.Com Accounts से व M.A Economics से PG College Gopeshwar Chamoli से संपन्न की। वर्ष २००३ में वह PG Collage (j.c.) के स्टूडेन्ट लीडर भी रहे। किशन की बचपन से ही संगीत की और दिलचस्पी थी इसीलिए वो एनुअल फुन्कसेन व सांस्कृतिक प्रोग्राम्स में अपनी प्रस्तुतियां देते थे। ..

एल्बमसंपादित करें

  1. ओ.. रे... सांगली,
  2. हो.... जिया,
  3. ऐ...जाणु ... रै,
  4. सुरिमा,
  5. सेमन्या बौजी
  6. जय नंदा नंदुला,
  7. घूघती २,