मुख्य मेनू खोलें

कुमारलात बौद्ध आचार्य थे जिनका काल प्रथम शताब्दी ईसवी है। भोट देशीय परम्परा कुमारलात का जन्म स्थान पश्चिम भारत निर्दिष्ट करती है।