खगोलीय धूल का कण - यह कॉन्ड्राइट, यानि पत्थरीले पदार्थ, का बना है
चील नॅब्युला जहाँ गैस और खगोलीय धूल के बादल में तारे बन रहे हैं

खगोलीय धूल अंतरिक्ष में मिलने वाले वह कण होते हैं जो आकार में कुछ अणुओं के झुण्ड से लेकर ०.१ माइक्रोमीटर तक होते हैं। इस धूल में कई प्रकार के पदार्थ हो सकते हैं। खगोलीय धूल ब्रह्माण्ड में कई जगह मिलती है -

अन्य भाषाओँ मेंसंपादित करें

"खगोलीय धूल" को अंग्रेजी में "कॉस्मिक डस्ट" (cosmic dust) और उर्दू में "कायनाती ग़ुबार" (کائناتی غبار‎) कहते हैं।

खगोलीय धूल की भूमिकासंपादित करें

खगोलशास्त्रियों का मानना है के खगोलीय धूल के कणों और गैस बादलों के जमावड़े से ही तारे और आदिग्रह चक्र बनते हैं। यह आदिग्रह चक्र बाद में जाकर अक्सर ग्रहीय मण्डल बन जाते हैं।[1] अंदाज़ा है के हमारा सौर मण्डल भी कुछ ऐसे ही शुरू हुआ था।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. planetary systems, formation of Archived 4 जून 2011 at the वेबैक मशीन., David Darling, The Internet Encyclopedia of Science