खशाबा दादासाहेब जाधव (केडी जाधव)[1] भारत के प्रथम व्यक्तिगत ओलंपिक मेडल जीतने वाले व्यक्ति थे। उन्होंने १९५२ के हेल्सिंकी ओलिंपिक में फ़्री स्टाइल कुश्ती के 52 किलोग्राम वर्ग में तीसरा स्थान हासिल किया और भारत के लिए एक सिल्वर मैडल जीता।[2] के डी जाधव 1948 की ओलिंपिक टीम में भी शामिल थे।

उनका जन्म 15 जनवरी 1926 को महाराष्ट्र के गोलेश्वर गांव में हुआ। 1954 के ओलिंपिक से वापिस आने के बाद उन्हें मुंबई पुलिस में सब इंस्पेक्टर की नौकरी मिली और फिर १९८२ में असिस्टेंट पुलिस कमिश्नर पद पर भी आसीन रहे। 14 अगस्त 1984 को एक सड़क दुर्घटना में उनकी मृत्यु हो गई।[3]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "छोटे से गांव का वो खिलाड़ी जिसने भारत को दिलाया पहला व्यक्तिगत ओलंपिक मेडल". Dainik Jagran. अभिगमन तिथि 2019-11-26.
  2. यंगलवार, प्रा विजय (2015-11-30). Bhartiya Olympic Veer (Hindi) / Nachiket Prakashan: भारतीय ओलंपिक वीर. Nachiket Prakashan.
  3. "ओलंपिक और भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन". BBC News हिंदी. अभिगमन तिथि 2019-11-28.