ख़ोलोसी एक हिंद-आर्य भाषा है जो ईरान के दक्षिण भाग में दो गाँवों में बोली जाती है। इसका वर्णन २००८ में पहली बार हुआ था।[1] वर्तमान स्थिति में यह भाषा संकटग्रस्त मानी जाती है। २००८ में सिर्फ़ ख़ोलोस और गोताव गाँवों में बोली जाती थी। ख़ोलोसी पर पड़ोसी ईरानी भाषाओं (फ़ारसी के उपभाषाओं) का ज़बरदस्त प्रभाव है।

ख़ोलोसी
बोलने का  स्थान होर्मोज़्गान प्रांत, ईरान
तिथि / काल 2014
मातृभाषी वक्ता 1800
भाषा परिवार
भाषा कोड
आइएसओ 639-3 None

संदर्भसंपादित करें

  1. "Shipwrecked and landlocked : Discovery of an Indo-Aryan language in southwest Iran" (PDF). Bamling-research.de. Archived from the original (PDF) on 15 August 2016. Retrieved 2016-05-20.