खाई युद्ध (Trench warfare) स्थल-युद्ध का वह प्रकार है जिसमें अधिकांशतः खाई में छिपकर शत्रु पर हमला किया जाता है। यह युद्ध प्रथम विश्वयुद्ध के समय पश्चिमी मोर्चे पर खूब लड़ा गया था। खाई युद्ध की विशेषता है कि खाई में स्थित होने के कारण सैनिक, शत्रु के छोटे आग्नेयास्त्रों से बचे रहते हैं और बहुत सीमा तक आर्टिलरी से भी बचे रहते हैम।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें