खासी विद्रोह 1830-33 के बीच उत्तर-पूर्वी पहाड़ी पर हुआ। इस विद्रोह का प्रमुख कारण ब्रिटिशों द्वारा वहाँ की स्थानीय जनजातियों को जबरन सड़क निर्माण में लगाया जाना था जिसके विरोध में उन्होंने यह विद्रोह किया। इस विद्रोह का नेतृत्व तीरथ सिंह ने किया और अंततः 1833 में ब्रिटिश सेना द्वारा इस विद्रोह को कुचल दिया गया। इस विद्रोह की शुरुआत सन 1830 ईस्वी मे हुई थीं।