मुख्य मेनू खोलें

गणित का दर्शन (philosophy of mathematics), दर्शनशास्त्र की एक शाखा है जो गणित के मान्यताओं (assumptions), आधारओं (foundations), एवं परिणामों (implications) का अध्ययन करता है। गणित के दर्शन का उद्देश्य गणित की विधियों एवं गणित की प्रकृति को समझना, तथा लोगों के जीवन में गणित का क्या स्थान है, इसका पता लगाना है। गणित की तार्किक एवं संरचनात्मक प्रकृति इस अध्ययन को अन्य दर्शनों की तुलना में अधिक विस्तृत एवं अनन्य बना देती है।