गर्टी थेरेसा कोरी चेक-अमरीकी जैव वैज्ञानी थी जो की नोबेल ईनाम जीतने वाली दुनिया की तीसरी और अमेरिका की पहली औरत थी। चिकित्सा के क्षेत्र में नोबेल ईनाम जीतने वाली वह पहली औरत थी। उसका जन्म प्राग में हुआ था। तभी के समय में स्त्रियों को विज्ञान के क्षेत्र से दूर ही रखा जाता था और शिक्षा क्षेत्र में उनको बहुत कम अवसर मिलते थे। कोरी ने फिर एक चिकित्सा कॉलेज में दाखिला लिया जहाँ पे वह कार्ल फर्डिनेंड कोरी से मिली, जिसने ग्रेजुएशन पूरी करने के उपरांत 1920 में गेर्टी से विवाह किया।