गर्दभिल्ल एक जनजाति है , यह जनजाति भील जनजाति से संबंधित है।[1] इस जनजाति में गर्दभिल्ल नामक राजा हुए जो कि उज्जैन के बेहद ही शक्तिशाली राजा थे।[2] यह जनजाति मालवा और ओडिशा[3] में निवास करती है ।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Basant, P. K. (2012). The City and the Country in Early India: A Study of Malwa. Primus Books. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-93-80607-15-3.
  2. Kosambi, Damodar Dharmanand (2002). Combined Methods in Indology and Other Writings. Oxford University Press. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-19-564239-1.
  3. Nāgari prācharini pātrika.

इन्हें भी देखेंसंपादित करें