गिरीश चन्द्र तिबाड़ी

गिरीश चन्द्र तिवाऱी 'गिर्दा' (10 सितम्बर 1945 – 22 अगस्त 2010) भारत के उत्तराखण्ड के पटकथालेखक, निदेशक, गीतकार, गायक, जनकवि एवं सामाजिक कार्यकर्ता थे। उत्तराखण्ड राज्य आंदोलन में आपने अपनी कविताओं व गीतों के माध्यम से उत्तराखंडी जनमानस को एकत्रित करने में पूर्ण सफलता पायी।

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें


रचनायें- अंधा युग ,अंधेरी नगरी,भारत दुर्दशा,नगाड़े खामोश,धनुष्यग,शिखरों के स्वर,इत्यादि पिथौरागढ़ जिले के प्रसिद्ध झुसिया दमायी पर शोध ग्रंथ लिखा ह