गुटेनबर्ग बाइबिल (अंग्रेज़ी: Gutenberg Bible) आधुनिक ढंग के छापाखाने से मुद्रित होने वाली दुनिया की पहली बाइबिल थी। २३ अगस्त, १४५६ को इसका प्रकाशन जर्मनी के माइंस शहर में आधुनिक ढंग का दुनिया का पहला छापामशीन बनाने वाले जर्मन वैज्ञानिक योहानेस गुटेनबर्ग द्वारा किया गया था। गुटेनबर्ग ने ३८० ईस्वी के एक लैटिन अनुवाद से यह बाइबिल सफेद कागज पर काले अक्षरों में छापी थी। इसे ४२ पंक्तियों वाली बाइबिल, मज़ारिन बाइबिल या बी४२ भी कहा जाता है। इसकी तीन सौ प्रतियाँ छापकर यूरोप के पेरिस सहित विभिन्न शहरों में भेजी गई थी। १८४७ ई. में अमेरिकी जेम्स लेनॉ के साथ इसकी एक प्रति अमेरिका पहुँची जो अब न्यूयॉर्क पब्लिक लाइब्रेरी में रखी गई है।[1]

न्यू यॉर्क पब्लिक लाइब्रेरी की गुटेनबर्ग बाइबिल। जेम्स लेनक्स द्वारा १८४७ में खरीदी गयी यह पहली प्रति थी जो संयुक्त राज्य में लायी गयी।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Tresures in full Gutenberg Bible". मूल से 10 अक्तूबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 13 अक्तूबर 2013.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें