गेट [ (GATT) general agreement on tariff and trade ] की स्थापना द्वितीय विश्व युद्ध के पश्चात् अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार के ढांचे में सुधार एवं क्रियाशील कार्यप्रणाली तैयार करने हेतु की गई थी।

संयुक्त राष्ट्र संघ ने सन् 1947 में व्यापार एवं रोजगार के पक्ष एक फैसला लिया , इस फैसले के अनुसार , हवाना (क्यूबा) में अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार संगठन (ITO) की स्थापना की गई । इस संगठन के शुरुआत में 23 देशों ने संस्थापक देशों के रूप में हस्ताक्षर करके सदस्यता हासिल की। सन् 1948 से ITO को ही GATT के नाम से जाना जाने लगा।