गोपीचंद श्रीनागर का जन्म १७. ०३..१८३४ ई० को कानपुर, उ०प्र० में हुआ। ये बाल साहित्य के प्रसिद्ध कवि हैं।[1]आपकी प्रमुख कृतियाँ हैं- चुनमुन, रामकथा, रुनझुन बालगीत, नटखट, शिशुगीत, दादी की पहेलियाँ

सन्दर्भसंपादित करें

  1. बचपन एक समंदर,666 (प्रतिनिधि बाल कविताएँ),. 245, नया आवास विकास, सहारनपुर (उ०प्र०) २४७००१: नीरजा स्मृति बाल साहित्य न्यास. 2009. पृ॰ 378. नामालूम प्राचल |lastt= की उपेक्षा की गयी (मदद); |first1= missing |last1= in Authors list (मदद); |access-date= दिए जाने पर |url= भी दिया होना चाहिए (मदद)