गौतम अदाणी

भारतीय उद्योगपति

गौतम शान्तिलाल अदाणी (गुजराती: ગૌતમ શાંતિલાલ અદાણી; जन्म 24 जून 1962) एक भारतीय उद्यमी और स्वयं निर्मित अरबपति है जो अदानी समूह के अध्यक्ष हैं। अदानी समूह कोयला व्यापार, कोयला खनन, तेल एवं गैस खोज, बंदरगाहों, मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक, बिजली उत्पादन एवं पारेषण और गैस वितरण में फैले कारोबार को सम्भालने वाला विश्व स्तर का एकीकृत बुनियादी ढ़ाँचा है।[2] 33 वर्षों के व्यापार अनुभव के के साथ, गौतम अदाणी प्रथम पीढ़ी के उद्यमी हैं जिन्होंने अपेक्षाकृत लघु समय में $ 2000 अरब का पेशेवर कारोबारी साम्राज्य आदानी समूह का नेतृत्व करने वाले एक मामूली पृष्ठभूमि के व्यक्ति हैं।[3] उन्हें व्यापार-परिवहन एवं परिवहन सम्बंधी बुनियादी ढांचे के विकास के लिए विश्व भर के 100 सबसे प्रभावशाली व्यवसायियों में गिना जाता है।

गौतम अदाणी
जन्म गौतम शान्तिलाल अदाणी
24 जून 1962 (1962-06-24) (आयु 61)
अहमदाबाद, गुजरात, भारत
आवास अहमदाबाद]], गुजरात, भारत
राष्ट्रीयता भारतीय
पेशा अदानी समूह के संस्थापक एवं अध्यक्ष
कुल दौलत सं॰रा॰$१५ ००० करोड़ (२०२२)[1]
प्रसिद्धि का कारण अदानी समूह की सफलता
धर्म जैन धर्म
जीवनसाथी प्रीति
बच्चे करण अदाणी
जीत अदाणी
उल्लेखनीय कार्य {{{notable_works}}}

12 अप्रैल 2022 को गौतम अदाणी दुनिया के छठे सबसे अमीर शख्स बन गए थे | अदाणी समूह के शेयरों में जबरदस्त तेजी की वजह से उनकी संपत्ति में ये उछाल देखने को मिला था [4]|

2022 में अपने जन्मदिन और पिता की 100वीं पुण्यतिथि पर अदाणी ने अपनी संपत्ति में से 7.7 अरब डॉलर (करीब 60 हजार करोड़ रुपये) सामाजिक कार्यों के लिए दान करने का संकल्प लिया हैं [5]| हिंडनबर्ग की रिपोर्ट प्रकाशित होने बाद मिस्टर अदाणी की संपत्ति में भरी गिरावट देखने को मिली! 24 फरवरी 2023 तक इनकी संपत्ति गिरकर 33 अरब डॉलर के करीब बची ! इस प्रकार अदाणी दुनिया टॉप 30 की सूची से बाहर हो गए|भारतीय सौर ऊर्जा निगम (SECI) द्वारा 6 बिलियन अमेरिकी डॉलर की बोली। 8000MW फोटोवोल्टिक पावर प्लांट परियोजना अदानी ग्रीन द्वारा शुरू की जाएगी; अदानी सोलर 2000MW अतिरिक्त सौर सेल और मॉड्यूल विनिर्माण क्षमता स्थापित करेगा। [33] [34]

सितंबर 2020 में, अडानी ने दिल्ली के बाद भारत के दूसरे सबसे व्यस्त मुंबई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे में 74% हिस्सेदारी हासिल कर ली।

नवंबर 2021 में, ब्लूमबर्ग इंडिया इकोनॉमिक फोरम में बोलते हुए, अदानी ने कहा कि समूह एक नए हरित ऊर्जा व्यवसाय में 70 बिलियन अमेरिकी डॉलर का निवेश कर रहा है।[29][36][37] जुलाई 2022 में, उन्होंने इस बारे में नए विवरण पेश किए कि इस निवेश का उपयोग तीन विशाल कारखानों - सौर, इलेक्ट्रोलाइज़र (हरित हाइड्रोजन बनाने के लिए), पवन टरबाइन संयंत्रों के निर्माण में कैसे किया जाएगा। [38] [39]

फरवरी 2022 में, वह मुकेश अंबानी को पछाड़कर एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए, [40] और अगस्त 2022 में, फॉर्च्यून द्वारा उन्हें दुनिया का तीसरा सबसे अमीर व्यक्ति नामित किया गया। [41]

मई 2022 में, अदानी परिवार ने एक विदेशी विशेष प्रयोजन इकाई के माध्यम से, स्विस निर्माण सामग्री की दिग्गज कंपनी होलसिम ग्रुप से अंबुजा सीमेंट्स और उसकी सहायक कंपनी एसीसी को 10.5 बिलियन डॉलर में हासिल कर लिया।[42]

अगस्त 2022 में, अदानी समूह की एक इकाई, एएमजी मीडिया नेटवर्क्स लिमिटेड (एएमएनएल) ने घोषणा की कि उसने राष्ट्रीय समाचार प्रसारक एनडीटीवी के 29.18% के मालिक आरआरपीआर होल्डिंग को खरीदने की योजना बनाई है, और अतिरिक्त 26% खरीदने के लिए एक खुली पेशकश की है। एक बयान में, एनडीटीवी ने कहा कि अडानी ने कंपनी के संस्थापकों, पूर्व पत्रकार राधिका रॉय और उनके अर्थशास्त्री पति प्रणय रॉय को सूचित किए बिना किसी तीसरे पक्ष के माध्यम से उनकी हिस्सेदारी हासिल कर ली और यह सौदा "बिना चर्चा, सहमति या नोटिस के" किया गया था।[43] यह बोली ने भारत में संपादकीय स्वतंत्रता के संबंध में भी चिंता जताई, क्योंकि अडानी को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी का करीबी माना जाता है। [3] [44] दिसंबर 2022 तक, अडानी को एनडीटीवी में सबसे बड़ी हिस्सेदारी को नियंत्रित करने वाला बताया गया। [45] [46] द इकोनॉमिस्ट ने कहा कि अडानी द्वारा एनडीटीवी को खरीदने से पहले, समाचार चैनल "सरकार का आलोचक था, लेकिन अब लापरवाह हो गया है।"[5]

पूर्व जीवन संपादित करें

गौतम अदाणी का जन्म 24 जून 1962 को अहमदाबाद के रतनपोल में स्थित सेठ नी पोल क्षेत्र के गुजराती जैन परिवार में हुआ। उनके पिता का नाम शान्तिलाल जैन एवं माता का नाम शान्ता जैन अदाणी है और उनके सात भाई-बहन हैं। उनके माता पिता आजीविका के लिए थराड़ कस्बे से गुजरात के उत्तरी हिस्से बस गये, अदाणी इनका एक गौत्र है। नब्बे के दशक में गौतम अदाणी का अपहरण हुआ था | कहा जाता है कि फिरौती के लिए उनका अपहरण किया गया था[6] |

कैरियर संपादित करें

गौतम अदाणी को सिर्फ 16 साल की उम्र में कारोबार में हाथ आजमाने के लिए मुंबई जाना पड़ा. साल 1978 में वह मुंबई गए और हीरे का कारोबार शुरू किया | लेकिन 1981 में वह गुजरात लौट गए और अपने भाई की प्लास्टिक की फैक्ट्री में काम शुरू किया | साल 1988 में उन्होंने कमोडिटी का एक्सपोर्ट-इम्पोर्ट करने वाली कंपनी के रूप में अदाणी एंटरप्राइजेज की शुरुआत की[7]. साल 1991 में हुए आर्थिक सुधारों की बदौलत अदाणी का बिजनेस जल्द ही डायवर्सिफाई हुआ और वह एक मल्टीनेशनल बिजनेसमैन बन गए[8] | साल 1995 का साल गौतम अदाणी के लिए बेहद सफल साबित हुआ, जब उनकी कंपनी को मुंद्रा बंदरगाह के संचालन का कॉन्ट्रैक्ट मिला | 1996 में अदाणी पावर लिमिटेड अस्तित्व में आई | उन्होंने ऑस्ट्रेलिया और इंडोने​शिया में माइंस, पोर्ट और रेलवे जैसे कारोबार में कदम रखा. साल 2010 में उन्होंने इंडोनेशिया में माइनिंग कारोबार शुरू किया. साल 2011 में अदाणी ग्रुप ने ऑस्ट्रेलिया के अबॉट पॉइंट कोल टर्मिनल को  2.72 अरब डॉलर में खरीदा |

आज अदाणी ग्रुप का कारोबार एनर्जी, पोर्ट, लॉजिस्टिक्स, माइनिंग, गैस, डिफेंस एवं एयरोस्पेस और एयरपोर्ट जैसे विविध क्षेत्रों तक फैला है. अदाणी समूह की शेयर बाजार में लिस्टेड कंपनियों में शामिल हैं-अदाणी एंटरप्राइजेज, अदाणी ग्रीन एनर्जी, अदाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन, अदाणी पावर, अदाणी ट्रांसमिशन, अदाणी टोटल गैस लिमिटेड और अदाणी विल्मर |

27 अप्रैल 2022 को गौतम अदाणी दुनिया के चौथे सबसे अमीर शख्स बन गए थे | उनकी संपत्ति मइक्रोसॉफ़्ट के बिल गेट्स के बराबर हो गई थी[9] |लेकिन अब वह दुनिया की अमीरों की सूची में के चालीसवें स्थान पर लुढक गये हैं

सन्दर्भ संपादित करें

  1. "प्रोफाइल". मूल से 11 सितंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 17 सितंबर 2013.
  2. "adani enterprises ltd (ADANIENT:National Stock Exchange of India)". Bloomberg Businessweek. मूल से 3 दिसंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 17 सितंबर 2013.
  3. "Billionaire who Beat the System". इण्डिया टुडे. 20 अगस्त 2011. मूल से 25 सितंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 17 सितंबर 2013.
  4. "गौतम अडानी की लंबी छलांग, धनकुबेरों की लिस्ट में छठे पायदान पर पहुंचे, 11वें पर अंबानी". आज तक (hindi में). 2022-04-12. अभिगमन तिथि 2022-06-24.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  5. "Gautam Adani: अडानी करेंगे 60000 करोड़ रुपये दान, सबसे बड़े भारतीय दानवीर को जानते हैं आप?". आज तक (hindi में). 2022-06-24. अभिगमन तिथि 2022-06-24.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  6. "फिरौती के लिए गौतम अडानी का हुआ था अपहरण, एक बार आतंकी हमले में भी बची थी जान!". आज तक (hindi में). 2022-06-24. अभिगमन तिथि 2022-06-24.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  7. "महज 5 लाख रुपये की थी पहली कंपनी, अडानी हमेशा कहते हैं ये एक बात!". आज तक (hindi में). 2022-02-04. अभिगमन तिथि 2022-06-24.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  8. "Happy Birthday Gautam Adani: गौतम अडानी की कहानी, 5 लाख से बिजनेस की शुरुआत, आज दुनिया में डंका". आज तक (hindi में). 2022-06-23. अभिगमन तिथि 2022-06-24.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)
  9. "Gautam Adani अब दुनिया के चौथे सबसे धनी व्यक्ति, Bill Gates जितनी हुई संपत्ति". आज तक (hindi में). 2022-04-27. अभिगमन तिथि 2022-06-24.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)

बाहरी कड़ियाँ संपादित करें