चन्द्रकुमार अग्रवाल (असमिया: চন্দ্ৰকুমাৰ আগৰৱালা; 1867–1938) असमिया के प्रसिद्ध लेखक, कवि और पत्रकार थे। वे 'जोनाकी' काल के अग्रदूत थे[1] असमिया साहित्य में उन्हें प्रतिमार खोनिकोर कहा जाता है।[2] वे जोनाकी पत्रिका के प्रथम सम्पादक तथा वित्तपोषक थे। वे असमिया भाषा उन्नति साधिनी सभा के संस्थापक भी थे। [3][4] लक्ष्मीनाथ बेजबरुवा, हेमचंद्र गोस्वामी तथा चन्द्रकुमार अग्रवाल को आसामी साहित्य की त्रिमूर्ति कहा जाता है।[5] चन्द्रकुमार अग्रवाल के भाई आनन्द चन्द्र अग्रवाल भी लेखक एवं कवि थे। प्रसिद्ध कवि, नाटककार, असमिया फिल्मकार ज्योति प्रसाद अग्रवाल उनके भतीजे थे। [6]

चन्द्रकुमार अग्रवाल
Chadra Kumar Agarwala.jpg
जन्म28 November 1867
ब्राह्मजन, गोहपुर, सोनितपुर जिला, असम
मृत्यु2 मार्च 1938
गुवाहाटी, असम
भाषाअसमिया
राष्ट्रीयताभारतीय

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Modern Indian Literature, an Anthology: Plays and prose - Google Books. Books.google.co.in. मूल से 3 अप्रैल 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2013-05-17.
  2. "Sobriquets". enajori.com. मूल से 9 नवंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2013-05-18.
  3. Bipuljyoti Saikia (1938-03-02). "Bipuljyoti Saikia's Homepage : Authors & Poets - Chandrakumar Agarwala". Bipuljyoti.in. मूल से 14 अक्तूबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2013-05-17.
  4. "The growth of print nationalism and assamese identity in two early assamese magazines". Sarai.net. मूल से 9 नवंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2013-05-17.
  5. Hiranya Saikia. "Asom Sahiya Sabha, a contemporary analysis". Times of Assam. मूल से 28 मई 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2013-05-17.
  6. "Famous Personality of Tezpur". tezpuronline.in. मूल से 1 सितंबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2013-05-18.