चरनदास चोर

हिन्दी भाषा में प्रदर्शित चलवित्र

चरनदास चोर (चारनदास -द- चोर) 1975  श्याम बेनेगल द्वारा बनाई गई एक प्रसिद्ध फिल्म  है, जो हबीब तनवीर के  प्रसिद्ध नाटक पर आधारित है। इसका मूल स्रोत विजयदान देथा नामक लोककथा है । फिल्म के गीत हबीब तनवीर ने भी दिए थे।

चरनदास चोर
निर्देशक Shyam Benegal
निर्माता Children's Film Society of India
लेखक Shyam Benegal & Shama Zaidi (Screen Adaptation)
कहानी Vijaydan Detha
आधारित Rajasthani folk tale 
द्वारा: Vijaydan Detha
अभिनेता Smita Patil, Lalu Ram, Sunder
संगीतकार Nand Kishore Mittal
प्रदर्शन तिथि(याँ)
  • 1975 (1975)
समय सीमा 156 min
देश India
भाषा Hindi

इस फिल्म में  स्मिता पाटिल, लालू राम, तथा एक किरदार मदन लाल की भूमिका हबीब तनवीर ने निभाया था।

सारसंपादित करें

यह फिल्म एक क्लासिक लोक कथा से ली गई है, मूल रूप से विजयदान देथा द्वारा सुनाई गई, और हबीब तनवीर ने इसकी लोककथा  के रूप में व्याख्या की। फ़िल्म साधरण- चोर, चंरन दास (लालू राम) के अचरजपूर्ण जीवन का चार्ट पेश करती हे। विचित्र रूप से वह सिद्धांतों का एक आदमी है। एक ईमानदार चोर, जो अखंडता और पेशेवर दक्षता वाला  मजबूत चोर  है । वह अपने गुरु से चार प्रतिज्ञायें करता है, कि वह सोने की थाली में कभी भी नहीं खाएगा, कभी भी जुलूस का नेतृत्व नहीं करेगा जो उनके सम्मान में हो , कभी राजा नहीं बनेगा  और कभी राजकुमारी से शादी नहीं करेगा।  बाद में गुरु उससे एक और प्रतिज्ञा करवाता हे की वह कभी झूठ नही बोलेगा।   जीवन की यात्रा पर वह चल देता हे। उसे राजा बनने की मशहूर होने की और राजनीतक पद मिलने पर भी ठुकरा देता हे। बाद में, स्थानीय राजकुमारी (स्मिता पाटिल)उस पर  मुग्ध हो जाती  है और उससे शादी करना चाहती हे। यहाँ पर इंकार करने पर उसकोअपने जीवन का मूल्य चुकाना पड़ता हे।यहीं वह बता पाता हे की सच का जीवन जीना ,  मानव  के लिए कितना मुश्किल हे ।

कास्टसंपादित करें

लालू राम चरनदास 

स्मिता पाटिल  प्रिंसेस 
मदनलाल 
फ़िदा भाई 
साधु मैहर 
हबीब तनवीर 
अंजलि पैगंकार 
सूंदर 
बेबी दस् 
बाबू 
कमाल कर

सन्दर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें