चुतर सिंह हत्याकांड [1] जिसमें २५ जून २०१६ राजस्थान राज्य के जैसलमेर ज़िले के मोकळा गांव का निवासी २१ वर्षीय चुतर सिंह सोढ़ा जो कि [2][3] जैसलमेर पुलिस के अंतर्गत एक हिस्ट्रीशीटर था उसका पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया , लेकिन राजपूत समाज के अंतर्गत]] चुतर सिंह का एनकाउंटर न मानकर [4] हत्या माना है।[5] जैसलमेर पुलिस के अनुसार चुतर सिंह पर बाड़मेर में ये एक हिस्ट्रीशीटर थे जिनके खिलाफ १७ मामले दर्ज थे।[6]

चुतर सिंह
जन्म 1995/1996/1997
जैसलमेर ,राजस्थान ,भारत
मृत्यु जून 25, 2016
रामगढ़ ,जैसलमेर ,राजस्थान
आवास जैसलमेर
राष्ट्रीयता Flag of India.svg भारत
व्यवसाय हिस्ट्रीशीटर पुलिस के अनुसार
गृह स्थान जैसलमेर, राजस्थान ,भारत

मामलासंपादित करें

चुतर सिंह सोढ़ा जिसकी समाचार पत्रों के अनुसार उम्र २०/२१ वर्ष है को राजस्थान के जैसलमेर ज़िले के [7] मोकळा या रामगढ़ [8] गांव में पुलिस टीम ने फायरिंग कर दी थी जिसमें चुतर सिंह की मौत हो गई थी जबकि इनके साथ दो अन्य लोग भी थे जो कि बच गए। कुछ समाचार पत्रों के अनुसार पुलिस ने दावा किया है कि चुतर सिंह एक हिस्ट्रीशीटर था इस कारण उसका एनकाउंटर किया गया और वो मारा गया लेकिन जैसलमेर और बाड़मेर ज़िले के राजपूत समाज के लोगों ने इस बात को नकारा है। समाचार पत्रों [9] ने यह छापा है कि पुलिस के मुताबिक यह घटना उस वक़्त हुई जब चुतर सिंह अपने साथियों के साथ मिलकर रामगढ़ में झोपड़े जलाकर भाग रहे थे तभी मौके पर पुलिस पहुंच गई और उन पर फायरिंग कर दी जिसमें चुतर सिंह को गोलियां लगने से मृत्यु हो गई जबकि [10] साथियों की जान बच गई।

राजपूत समाज का आह्वानसंपादित करें

राज्य के जैसलमेर तथा बाड़मेर ज़िले के अनुसार जोधपुर तथा जयपुर ज़िले में भी इस हत्याकांड [11] का बवाल मच गया है। राजपूत समाज ने यह दावा ठोक दिया है कि चुतर सिंह हिस्ट्रीशीटर नहीं था वो तो अभी युवक था इस कारण जब यह घटना हुई है तभी से ही सामाजिक मीडिया मुख्य रूप से फेसबुक तथा वाट्सऐप [12] पर युवा जन आंदोलन करने पर तुले हुए हैं यहां तक कि इसमें सफलता भी मिली है।

चुतर सिंह को न्याय दिलाने के लिए राजपूत समाज ने सीबीआई जांच की मांग की है और एनकाउंटर करने वाले पुलिस अधिकारी को सस्पेंड करने की मांग भी की है। इस कारण ०२ जुलाई २०१६ को जैसलमेर में महारैली निकालने की धमकियां भी दी है।

मचते बवाल पर पुलिस ने जैसलमेर और[13] बाड़मेर ज़िलों में इंटरनेट [14] सेवाएं स्थगित करवादी है।

ज्ञापनसंपादित करें

चुतर सिंह हत्याकांड में [15] लगभग सम्पूर्ण राजस्थान भर के ज़िलों में राजपूत समाज के लोगों ने राजस्थान के वर्तमान मुख्यमंत्री [16][17][18] वसुंधरा राजे को सीबीआई जांच के लिए ज्ञापन सौंपे है। साथ जैसलमेर और बाड़मेर ज़िलों में इंटरनेट सेवाएं [19] तो पहले से ही बन्द करवा दी गई है। [20]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. The Asian Age. "Vasundhara Raje cornered over encounters by her own team". मूल से 1 जुलाई 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.
  2. टाइम्स ऑफ़ इंडिया. "Killed criminal was Cobra gang member, say police". मूल से 30 जून 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.
  3. आईबीएन खबर (2016). "जैसलमेर में हिस्ट्रीशीटर की मौत पर भड़का आंदोलन". मूल से 5 जुलाई 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.
  4. फर्स्ट इण्डिया न्यूज़. "पुलिस फायरिंग में हिस्ट्रीशीटर की मौत, परिजनों ..." अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.[मृत कड़ियाँ]
  5. Samacharjagat. "जैसलमेरः पुलिस-बदमाश में मुठभेड, एनकाउंटर में ..." मूल से 3 जुलाई 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.
  6. "पुलिस की गोली से युवक की मौत मामले ने पकड़ा तूल, जैसलमेर के कई कस्बे बंद". मूल से 2 जुलाई 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 जुलाई 2016. |firstlast1= missing |lastlast1= in first1 (मदद)
  7. NYOOOZ. "Killed criminal was Cobra gang member, say police". मूल से 30 जून 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016. पाठ "Jaipur NYOOOZ" की उपेक्षा की गयी (मदद)
  8. Udaipur Kiran (2016). "जैसलमेर में मुठभेड में हिस्ट्रीशीटर". मूल से 26 जून 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.
  9. जागरूक टाइम्स (2014). "जैसलमेर में बवाल, फायरिंग में हिस्ट्रीशीटर की मौत". अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.[मृत कड़ियाँ]
  10. Univarta. "जैसलमेर में मुठभेड में हिस्ट्रीशीटर की मौत - वार्ता". मूल से 17 अगस्त 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.
  11. Pressnote.in. "जैसलमेर फायरिंग में हिस्ट्रीशीटर की मौत ,मचा ..." मूल से 27 जून 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.
  12. राजस्थान पत्रिका. "Video : जैसलमेर में हुए एनकाउंटर पर गरमाई सियासत ..." मूल से 29 जून 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.
  13. Khaskhabar. "पुलिस फायरिंग में हिस्ट्रीशीटर की मौत - Khaskhabar". मूल से 27 जून 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.
  14. दैनिक भास्कर. "बाड़मेर और जैसलमेर में मोबाइल इंटरनेट ... - Dainik Bhaskar". अभिगमन तिथि 1 जुलाई 2016.
  15. टाइम्स ऑफ़ इंडिया. "History-sheeter dies in cop firing 'accidentally'". मूल से 4 जुलाई 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 जुलाई 2016.
  16. दैनिक भास्कर. "क्षत्रिय समाज ने की गिरफ्तारी की मांग". मूल से 16 अगस्त 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 जुलाई 2016.
  17. प्रातः काल. "फर्जी एनकाउन्टर के विरोध में निकाली रैली, सौंपा ज्ञापन". मूल से 3 जुलाई 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 जुलाई 2016.
  18. Pressnote. "फर्जी एनकाउन्टर के विरोध में दिया मुख्यमंत्री के ..." मूल से 1 जुलाई 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 जुलाई 2016.
  19. इकोनोमिक टाइम्स. "Mobile Internet blocked in Jaisalmer, Barmer". मूल से 30 जून 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2 जुलाई 2016.
  20. राजस्थान पत्रिका. "Video : जैसलमेर पुलिस गोलीकांड : माहौल शांतिपूर्ण ..." मूल से 15 अगस्त 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 जुलाई 2016.