मुख्य मेनू खोलें

काष्ठीय वृक्षों के तना, शाखा, जड़ आदि के सबसे ऊपरी आवरण को छाल या वल्क (Bark) कहते हैं। 'छाल' तकनीकी शब्द नहीं है। छाल को दो भागों में बंटा हुआ मान सकते हैं - आन्तरिक वल्क और वाह्य वल्क। आन्तरिक वल्क में जीवित ऊतक होते हैं जबकि वाह्य वल्क में मृत ऊतक।