जलाल अल-दीन मिर्जा (फारसी: جلال الدین میرزا; 1827-1872) एक ईरानी इतिहासकार और फ्रीथिंकर थे, जो तेहरान में पैदा हुआ थे। इन्होंने नाम-ए खोसरोवैन नामक फारस के इतिहास के बारे में एक ऐतिहासिक पुस्तक लिखी थी।

जलाल अल-दीन मिर्जा कजर
Jalal al-Din Mirza
جلال الدین میرزا
Jalal al-Din Mirza, son of Fath-Ali Shah Qajar.jpg
जन्म 1827
तेहरान, ईरान
मृत्यु 1872 (आयु 45)
व्यवसाय इतिहासकार और फ्रीथिंकर (स्वतंत्र विचारक)

सन्दर्भसंपादित करें