जेम्स ई॰ रॉथमैन (जन्म नवम्बर 3, 1950) येल विश्वविद्यालय में जैवचिकित्सा विज्ञान के फ़र्गुस ऍफ़ वालेस प्रोफेसर, येल स्कूल ऑफ़ मेडिसिन के कोशिका विज्ञान विभाग के अध्यक्ष और येल वेस्ट कैम्पस के नैनोबायोलोजी (नैनो-जीवविज्ञान) संस्थान के अध्यक्ष हैं।[2] रॉथमैन को जल स्फोटिका दुर्व्यापार में उनके कार्य के लिए २०१३ का चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार (रैंडी शेकमैन और थॉमस सुडॉफ के साथ साझा) प्रदान किया गया।[3] उन्होंने 1996 के किंग फैसल इंटरनेशनल प्राइज[4], 2002 में कोलंबिया विश्वविद्यालय से द लौइसा ग्रोस होर्वित्ज़ प्राइज और अल्बर्ट लस्कर अवार्ड फॉर बेसिक मेडिकल रिसर्च सहित बहुत से अन्य सम्मान भी प्राप्त किये।

नोबेल पुरस्कार समारोह: जेम्स रोथमैन को स्वीडन के राजा से पुरस्कार मिला।
जेम्स रॉथमैन
जन्म 3 नवम्बर 1950 (1950-11-03) (आयु 70)
हावरहिल, मैसाचुसेट्स
क्षेत्र कोशिका विज्ञान
संस्थान येल विश्वविद्यालय, कोलंबिया विश्वविद्यालय, मेमोरियल स्लॉयन-केत्तेरिंग कैंसर सेण्टर, प्रिंसटन विश्वविद्यालय, स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय[1]
शिक्षा येल विश्वविद्यालय, हार्वर्ड विश्वविद्यालय
अकादमी सलाहकार हार्वे लोडिश
उल्लेखनीय सम्मान लौइसा ग्रोस होर्वित्ज़ प्राइज (2002)
अल्बर्ट लस्कर अवार्ड फॉर बेसिक मेडिकल रिसर्च (2002)
नोबेल प्राइज इन फिजियोलॉजी और मेडिसिन (2013)

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "James E. Rothman, Faculty: Yale Department of Chemistry". केम डॉट येल डॉट इडू. मूल से 11 दिसंबर 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2013-10-09.
  2. "James E Rothman". मूल से 15 अक्तूबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 अक्टूबर 2013.
  3. "The Nobel Prize in Physiology or Medicine 2013". नोबल फाउंडेशन. मूल से 4 जनवरी 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 8 अक्टूबर 2013.
  4. "KFIP Winners Archive" (PDF). King Faisal Foundation. मूल (PDF) से 6 अप्रैल 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 8 अक्तूबर 2013.