मुख्य मेनू खोलें
पुआल या अन्य फसलों के डंठलों को दबाकर बनाई गई इष्टिका

जैवसंहति इष्टिकाएँ (Biomass briquettes) कोयला और काष्ठकोयला के स्थान पर प्रयुक्त जैव ईंधन है। ये इष्टिकाएँ, जैवसंहति (जैसे खोई, मूँगफली का छिलका, धान की भूसी आदि) को एकत्र करके दबाकर बनायी जातीं हैं। दबाने से यह लाभ होता है कि ये इष्टिकाएँ कम जगह घेरतीं हैं तथा अधिक समय तक जलतीं हैं। इनका उपयोग मुख्यतः विकासशील देशों में होता है जहाँ भोजन पकाने वाले ईंधन आसानी से उपलब्ध नहीं हैं।

सन्दर्भसंपादित करें

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें